GRP जवानों ने पत्रकार की पिटाई की, जब CM योगी को पता चला तो देखिए उन्होंने क्या किया

घटना की जानकारी मिलने पर कई पत्रकार थाने पहुंचे और सोशल मीडिया पर अमित शर्मा की पिटाई का वीडियो फुटेज डाल दिया। पत्रकारों ने पुलिस मुख्यालय में वरिष्ठ अधिकारियों से भी संपर्क किया।

Written by Newsroom Staff June 12, 2019 11:36 am

लखनऊ। सरकारी रेलवे पुलिस (जीआरपी) के जवानों ने बुधवार तड़के धीमनपुरा के पास ट्रेन के पटरी से उतरने की खबर कवर कर रहे एक पत्रकार की पिटाई कर दी। न्यूज 24 चैनल के अमित शर्मा के साथ मौके पर मौजूद जीआरपी के जवानों ने दुर्व्यवहार किया, मारपीट की और उनका कैमरा छीन लिया।

पत्रकार ने कहा कि पुलिस ने उसकी बात नहीं सुनी और उसे पीटते रहे। शर्मा ने कहा, “मुझे बंद कर दिया गया, मेरे कपड़े उतार दिया और उन्होंने मेरे मुंह पर पेशाब किया।” घटना की जानकारी मिलने पर कई पत्रकार थाने पहुंचे और सोशल मीडिया पर अमित शर्मा की पिटाई का वीडियो फुटेज डाल दिया। पत्रकारों ने पुलिस मुख्यालय में वरिष्ठ अधिकारियों से भी संपर्क किया।

स्टेशन हाउस अधिकारी राकेश कुमार और जीआरपी कांस्टेबल सुनील कुमार को निलंबित कर दिया गया है और घटना की जांच का आदेश दिया गया है। हालांकि पत्रकार को बाद में छोड़ दिया गया। शामली के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अजय कुमार पांडे ने कहा कि वरिष्ठ अधिकारियों को इस घटना से अवगत कराया गया है, जो ‘दुर्भाग्यपूर्ण’ थी और आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।

योगी को पता चला तो किया सस्पेंड

एक प्राइवेट न्यूज चैनल के बड़े रिपोर्टर पंकज झा ने अपने ट्वीट में बताया कि, इस घटना की सूचना जब 12 जून को यूपी मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को मिली तो उन्होंने फौरन कार्यवाई करते हुए थानेदार राकेश और सिपाही सुनील को सस्पेंड कर दिया।