शरद पवार ने कसा सीबीआई जांच पर तंज, कहा- कहीं इसका हाल भी नरेंद्र दाभोलकर मर्डर केस जैसा न हो

बॉलीवुड (Bollywood) के दिवगंत एक्टर सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) के मौत मामले में सुप्रीम कोर्ट (SC) ने सीबीआई (CBI) जांच को मंजूरी दी। जिसके बाद राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (NCP) चीफ शरद पवार (Sharad Pawar) का बड़ा बयान सामने आया है।

Avatar Written by: August 20, 2020 2:13 pm
sharad pawar sushant

मुंबई। बॉलीवुड (Bollywood) के दिवगंत एक्टर सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) के मौत मामले में सुप्रीम कोर्ट (SC) ने सीबीआई (CBI) जांच को मंजूरी दी। इस मामले में ईडी (ED) की जांच जारी है। एजेंसी ने अब तक कई लोगों से पूछताछ की है। तो वहीं, सीबीआई टीम भी एक्शन में है। ऐसे में राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (NCP) चीफ शरद पवार (Sharad Pawar) का बड़ा बयान सामने आया है। शरद पवार ने सीबीआई जांच पर तंज कसते हुए कहा कि कहीं इसका भी हाल नरेंद्र दाभोलकर मर्डर केस (Narendra Dabholkar Murder Case) की तरह न हो जाए, जो अभी तक नहीं सुलझा है।

sharad pawar sushant

उन्होंने कहा, ”मुझे यकीन है कि महाराष्ट्र सरकार सुशांत सिंह राजपूत के मामले को सीबीआई को सौंपने और जांच प्रक्रिया में पूरी तरह से सहयोग करने के उच्चतम न्यायालय के फैसले का सम्मान करेगी।”

Sushant Singh Rajput

आगे उन्होंने सीबीआई जांच पर तंज कसते हुए कहा, “मुझे उम्मीद है कि जांच आगे नहीं बढ़ेगी, जैसा कि डॉ. नरेंद्र दाभोलकर की हत्या के मामले में भी किया गया था, जिसकी जांच 2014 में सीबीआई ने शुरू की थी और जो अभी भी अनसुलझी है।”

सीबीआई की टीम जाएगी मुंबई

सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद आज सीबीआई की विशेष टीम सुशांत की मौत की जांच के लिए मुंबई पहुंचकर जांच शुरू कर सकती है। सुशांत का कमरा और वहां रखी हर चीज सीबीआई के लिए अहम होगी। सवाल ये है कि क्या हाई प्रोफाइल मौत के इस केस में सीबीआई को वो फॉरेंसिक सबूत मिलेंगे, जिससे सीबीआई इस केस को नतीजे तक ले जा सके।

sushant singh rajput

मुंबई पहुंचते ही सीबीआई की टीम का कई चुनौतियां इंतजार कर रहीं होंगी। सीबीआई के सामने सबसे पहली चुनौती कोरोना काल में क्वॉरंटीन से बचने की होगी। बीएमसी बोल चुकी है कि अगर सीबीआई की टीम सात दिन से कम समय के लिए मुंबई आती है, तो उसे क्वॉरंटीन नहीं किया जाएगा लेकिन अगर लंबे समय तक मुंबई में रुकने का प्लान हो तो क्वॉरंटीन के नियमों का पालन करना पड़ेगा।