महाराष्ट्र में जारी सियासी संकट के बीच शरद पवार की नई गुगली, किया पहली बार ये बड़ा खुलासा

महाराष्ट्र में जारी सियासी संग्राम के बीच सोमवार एनसीपी प्रमुख शरद पवार ने बड़ा बयान दिया है। शरद पवार ने पहली बार खुलासा करते हुए कहा कि हमने शिवसेना से ढाई-ढाई साल मुख्यमंत्री पद की मांग की थी, लेकिन इस मसले पर मतभेद था। कोई सहमति नहीं बन पाई थी।

Written by: November 25, 2019 11:03 am

नई दिल्ली। महाराष्ट्र में जारी सियासी संग्राम के बीच सोमवार एनसीपी प्रमुख शरद पवार ने बड़ा बयान दिया है। शरद पवार ने पहली बार खुलासा करते हुए कहा कि हमने शिवसेना से ढाई-ढाई साल मुख्यमंत्री पद की मांग की थी, लेकिन इस मसले पर मतभेद था। कोई सहमति नहीं बन पाई थी।

sharad pawar and sanjay raut

शरद पवार ने सोमवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस कर महाराष्ट्र की राजनीति में चल रही उठापटक के बीच उठ रहे हर सवाल का जवाब दिया है। लेकिन एक सवाल के जवाब में पवार ने कहा कि जिसके पास बहुमत होगा वो सरकार बनाएगा। चाहे वो बहुमत उनके पास हो या फिर हमारे पास हो। हालांकि उन्होंने साफ किया कि अजित पवार के फैसले के साथ मैं नहीं हूं अगर होता तो सब को साथ लेकर चलता।

sharad pawar

शरद पवार का बयान ऐसे समय में आया है, जब राज्‍य की राजनीति में उथल-पुथल मची हुई है। राज्‍य में देवेंद्र फडणवीस की सरकार बन चुकी है और एनसीपी नेता अजीत पवार डिप्‍टी सीएम बन चुके हैं। एनसीपी अजीत पवार को विधायक दल का नेता पद से हटा चुकी है।

uddhav thackeray and Sharad Pawar

इससे पहले शिवसेना नेता संजय राउत ने कहा था, भाजपा शायद डिप्टी सीएम अजित पवार को ढाई सालों के लिए मुख्यमंत्री बना सकती है। संजय राउत ने ये भी बताया कि आज यानी सोमवार को शिवसेना, एनसीपी और कांग्रेस गर्वनर से मुलाकात करने भी जाएंगे। बताया जा रहा है कि तीनों दल आज राज्यपाल से मुलाकात कर बहुमत साबित करेंगे और विधायकों द्वारा साइन किया समर्थन पत्र भी सौपेंगे।