नागरिकता कानून पर कांग्रेस को फिर बड़ा झटका देगी शिवसेना, उठाएगी यह बड़ा कदम

विपक्ष की राष्ट्रपति से मुलाकात से अपनी पार्टी को अलग करते हुए शिवसेना के सांसद संजय राउत का कहना है कि मुझे इस बारे में नहीं पता। उन्होंने कहा, ‘मुझे इस बारे में कुछ नहीं पता है। शिवसेना इस प्रतिनिधिमंडल का हिस्सा नहीं है।’

Avatar Written by: December 17, 2019 11:14 am

नई दिल्ली। नागरिकता संशोधन कानून को लेकर विपक्ष लगातार केंद्र सरकार पर हमला कर रहा है। विपक्ष दावा कर रहा है कि यह कानून सांप्रदायिक है और सरकार को इसे वापस लेना चाहिए। कई राज्यों में इसके विरोध में हिंसा भी हो रही है। वहीं आज विपक्ष का एक प्रतिनिधिमंडल राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से मुलाकात करेगा। वह उन्हें देश की वर्तमान परिस्थितियों से अवगत कराएगा। हालांकि इस प्रतिनिधिमंडल से शिवसेना ने दूरी बना ली है। जबकि पहले कहा जा रहा था शिवसेना इसका हिस्सा है।

Sanjay Raut, Shiv Sena

विपक्ष की राष्ट्रपति से मुलाकात से अपनी पार्टी को अलग करते हुए शिवसेना के सांसद संजय राउत का कहना है कि मुझे इस बारे में नहीं पता। उन्होंने कहा, ‘मुझे इस बारे में कुछ नहीं पता है। शिवसेना इस प्रतिनिधिमंडल का हिस्सा नहीं है।’ गौरतलब है कि नागरिकता कानून पर विपक्षी पार्टियों का प्रतिनिधिमंडल आज राष्ट्रपति से मुलाकात करेगा।

वहीं जब उनसे पूछा गया कि क्या महाराष्ट्र में नागरिकता कानून को लागू किया जाएगा तो उन्होंने कहा, ‘हमारे मुख्यमंत्री (उद्धव ठाकरे) इसपर कैबिनेट बैठक में फैसला लेंगे।’

बता दें कि शिवसेना ने पहले लोकसभा में नागरिकता संशोधन बिल का समर्थन किया था, लेकिन कांग्रेस के तीखे तेवर के बाद उसने अपना स्‍टैंड बदलते हुए बिल का समर्थन करने के लिए सरकार के सामने अपनी शर्तें रख दी थी। राज्‍यसभा में भी शिवसेना ने बिल का विरोध नहीं किया, बल्‍कि सदन से वॉकआउट कर गई थी। इससे भी कांग्रेस की नाराजगी सामने आ गई थी।