नागरिकता बिल : लोकसभा में समर्थन देने के बाद शिवसेना का यू-टर्न, बिल को लेकर उठाए सवाल

इससे पहले शिवसेना नेता संजय राउत ने भी कहा कि लोकसभा में बिल का समर्थन करने के बावजूद भी राज्यसभा में नागरिकता संशोधन विधेयक पर हम अलग विचार कर सकते हैं।

Written by: December 10, 2019 3:49 pm

नई दिल्ली। सोमवार को लोकसभा में नागरिकता संशोधन बिल पास हो गया है। इस बिल के पक्ष में 311 और विपक्ष में 80 वोट पड़े। खास बात ये भी है कि एनडीए से अलग होकर महाराष्ट्र में कांग्रेस और एनसीपी के साथ सरकार बनाने वाली शिवसेना ने भी इस बिल को समर्थन दिया।

Amit Shah

हालांकि लोकसभा में समर्थन देने के बाद शिवसेना ने मंगलवार को यू-टर्न ले लिया है। शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने एक ट्वीट में साफ कर दिया है कि वो राज्यसभा में इस बिल को समर्थन नहीं देंगे। उद्धव ठाकरे ने पत्रकारों से बातचीत में कहा, ‘जब तक नागरिकता बिल पर चीजें साफ नहीं हो जातीं तब हम सपोर्ट नहीं करेंगे।

Uddhav Thackrey

‘हमारे सवालों का जवाब नहीं दिया’

उन्होंने कहा कि, ‘गृह मंत्री ने सभी सवालों के जवाब देने की कोशिश की, जो मैंने सुना है। उन्होंने हालांकि हमारे सवालों का जवाब नहीं दिया। जब तक हमें अपने सवालों के जवाब नहीं मिल जाते, तब तक हम उन्हें राज्यसभा में समर्थन नहीं देंगे।’ उद्धव ठाकरे ने कहा, ‘जो कोई असहमत होता है, वह देहद्रोही होता है, यह (बीजेपी) उनका भ्रम है।

भाजपा की नीति पर सवाल खड़े किए

भाजपा की नीति पर सवाल खड़े करते हुए उद्धव ने कहा कि, ‘यह एक भ्रम है कि केवल भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) को देश की परवाह है। हमने नागरिकता संशोधन बिल को लेकर सुझाव दिया है। हम चाहते हैं कि इसे राज्यसभा में गंभीर से लिया जाए। ये शरणार्थी कहां रहेंगे? किस राज्य में रहेंगे? यह सब स्पष्ट किया जाना चाहिए।’

sanjay raut

इससे पहले शिवसेना नेता संजय राउत ने भी कहा कि लोकसभा में बिल का समर्थन करने के बावजूद भी राज्यसभा में नागरिकता संशोधन विधेयक पर हम अलग विचार कर सकते हैं। राज्यसभा में शिवसेना के तीन सदस्य हैं।

आपको बता दें कि अगर शिवसेना नागरिकता संशोधन बिल के खिलाफ वोट करती है तो मोदी सरकार का राज्यसभा में नंबर गेम बिगड़ सकता है। फिलहाल, मोदी सरकार के सपोर्ट में 119 सदस्य हैं, जबकि विपक्ष में 100 सदस्य हैं। शिवसेना को जोड़ ले तो यह आंकड़ा 103 हो जाता है। 19 राज्यसभा सदस्यों का रुख साफ नहीं है।