नागरिकता बिल पर सरकार के साथ शिवसेना! कांग्रेस-एनसीपी कर रही है विरोध

संजय राउत बोले कि शिवसेना पहले से ही ये बात कहती आ रही है कि घुसपैठियों को बाहर निकालना चाहिए, पाकिस्तान-बांग्लादेश-अफगानिस्तान से जो हिंदू-सिख-बौद्ध-जैन आ रहे हैं उनके मसले पर वह केंद्र सरकार के साथ है।

Avatar Written by: December 5, 2019 3:58 pm

नई दिल्ली। महाराष्ट्र में कांग्रेस और एनसीपी के साथ सरकार बनाने वाली शिवसेना ने नागरिकता संशोधन बिल पर अपना रुख साफ कर दिया है और जहां उनकी सहयोगी पार्टी कांग्रेस और एनसीपी इस बिल का विरोध कर रही है, तो वहीं शिवसेना ने कहा है कि, हम देश की सुरक्षा के मामले में अडिग हैं।

Sonia Gandhi Sharad Pawar Uddhav

एक न्यूज चैनल से बात करते हुए शिवसेना नेता संजय राउत ने कहा कि, देश के साथ कमिटमेंट के मुद्दे पर हम पीछे हटने वाले नहीं हैं, ये बिल जब भी लाया जाएगा हमारी स्टैंड पता लग जाएगा। उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय सुरक्षा के मुद्दे पर हम अपनी बात पर कायम हैं।

sanjay raut

संजय राउत बोले कि शिवसेना पहले से ही ये बात कहती आ रही है कि घुसपैठियों को बाहर निकालना चाहिए, पाकिस्तान-बांग्लादेश-अफगानिस्तान से जो हिंदू-सिख-बौद्ध-जैन आ रहे हैं उनके मसले पर वह केंद्र सरकार के साथ है। बता दें कि जब शिवसेना एनडीए में थी, तब भी इस बिल का समर्थन करती थी। लेकिन अब महाराष्ट्र में उसकी साथी एनसीपी और कांग्रेस इस बिल का पुरजोर विरोध कर रही है।

Sanjay Raut, Shiv Sena

गौरतलब है कि कांग्रेस समेत अन्य विपक्षी पार्टियां नागरिकता संशोधन बिल का विरोध कर रही हैं और सरकार पर आरोप लगा रही हैं कि ये बिल लोगों को धर्म के आधार पर बांटने वाला है। हालांकि, शिवसेना इस मामले को देश से जोड़ रही है।

shivsena congress NCP

गौर करने वाली बात ये भी है कि महाराष्ट्र में जब तीनों पार्टियों के गठबंधन की बात सामने आ रही थी तो कई बार इस तरह के मुद्दे, हिंदुत्व और सेक्युलरिज्म के मुद्दे पर अलग-अलग विचार सुनाई दिए थे। नागरिकता संशोधन बिल को केंद्रीय कैबिनेट से मंजूरी मिल गई है, जबकि अभी इसे संसद में पेश किया जाना बाकी है।