Connect with us

देश

Jibe Politics: जन्माष्टमी पर शिवपाल और अखिलेश यादव में छिड़ी जंग, चाचा ने बताया कंस तो भतीजे ने कहा दुर्योधन!

कृष्ण जन्माष्टमी का पावन पर्व शुक्रवार को था। इस दिन लोग भगवान कृष्ण की पूजा-पाठ में जुटे थे। वहीं, मुलायम सिंह के खानदान में चाचा और भतीजा यानी शिवपाल सिंह यादव और अखिलेश यादव के बीच बयानों की जंग एक बार फिर छिड़ी थी।

Published

shivpal and akhilesh

लखनऊ/ग्वालियर। कृष्ण जन्माष्टमी का पावन पर्व शुक्रवार को था। इस दिन लोग भगवान कृष्ण की पूजा-पाठ में जुटे थे। वहीं, मुलायम सिंह के खानदान में चाचा और भतीजा यानी शिवपाल सिंह यादव और अखिलेश यादव के बीच बयानों की जंग एक बार फिर छिड़ी थी। शिवपाल सिंह यादव ने सुबह नाम न लेते हुए अखिलेश को कंस जैसा बताया था। इसका जवाब दोपहर में मध्यप्रदेश के ग्वालियर दौरे पर पहुंचे अखिलेश ने दिया। उन्होंने अपने चाचा का नाम तो नहीं लिया, लेकिन पलटवार कर उनको दुर्योधन बता दिया। शिवपाल और अखिलेश के इन वार-पलटवार की चर्चा दिनभर यूपी में होती रही। खास बात ये भी कि कंस और दुर्योधन दोनों ही भगवान कृष्ण के जीवन से जुड़े अहम किरदारों में शामिल हैं।

Akhilesh and Shivpal

पहले आपको बताते हैं कि शिवपाल सिंह यादव ने अखिलेश यादव पर किस तरह निशाना साधा था। शिवपाल ने जन्माष्टमी के मौके पर यदुवंशियों (यादवों) के लिए बयान जारी किया था। इस बयान में उन्होंने सभी यादवों को भगवान कृष्ण के काम और उनके परिवार के बारे में बताया था। साथ ही शिवपाल ने इसमें भगवान कृष्ण के मामा कंस का नाम भी लिया था। उन्होंने लिखा था कि कुपुत्र कंस ने अपने पिता को गद्दी से हटाकर मथुरा के सिंहासन पर कब्जा कर लिया था। बता दें कि सपा में मुलायम सिंह को हटाकर ही अखिलेश यादव अध्यक्ष बने थे। शिवपाल ने जिस तरह कंस के बारे में लिखा, उससे साफ हो गया कि भले ही नाम न ले रहे हों, लेकिन उनका निशाना अखिलेश ही हैं।

वहीं, शिवपाल के इस वार पर अखिलेश ने भी पलटवार कर उनका नाम लिए बगैर दुर्योधन बता दिया। अखिलेश ने ग्वालियर में सपा कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा कि दुर्योधन ने सारी सेना मांग ली थी, लेकिन वो महाभारत हार गया था। उन्होंने कहा कि इसकी वजह ये थी कि भगवान श्रीकृष्ण जिसके पक्ष में रहते हैं, जीत उसी की होती है। नीचे आप सुनिए किस तरह अखिलेश ने अपने चाचा को बात ही बात में दुर्योधन कह दिया।

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement