राम जन्मभूमि पर फैसले की सोशल मीडिया पर सराहना

अयोध्या के राम जन्मभूमि-बाबरी मस्जिद विवाद पर सुप्रीम कोर्ट के ऐतिहासिक फैसले का स्वागत करते हुए सोशल मीडिया यूजर्स ने निर्णय की सराहना की है। शीर्ष न्यायालय ने केंद्र सरकार को राम मंदिर निर्माण के लिए तीन महीने में ट्रस्ट बनाने का निर्देश दिया है।

Written by: November 9, 2019 2:00 pm

नई दिल्ली। अयोध्या के राम जन्मभूमि-बाबरी मस्जिद विवाद पर सुप्रीम कोर्ट के ऐतिहासिक फैसले का स्वागत करते हुए सोशल मीडिया यूजर्स ने निर्णय की सराहना की है। शीर्ष न्यायालय ने केंद्र सरकार को राम मंदिर निर्माण के लिए तीन महीने में ट्रस्ट बनाने का निर्देश दिया है। मुख्य न्यायाधीश न्यायमूर्ति रंजन गोगोई की अध्यक्षता वाली पांच जजों की पीठ ने सर्वसम्मति से लिए गए फैसल में सात दशकों पुराने जमीन विवाद मामले में एक पक्षकार रहे सुन्नी वक्फ बोर्ड को वैकल्पिक तौर पर मस्जिद निर्माण के लिए अलग से 5 एकड़ जमीन देने का भी आदेश दिया है।

supreme court of india, Delhi

ट्विटर पर यूजर्स निर्णय को लेकर अपनी प्रतिक्रियाएं दे रहे हैं। हैश टैग अयोध्या वर्डिक्ट, हैश टैग राम मंदिर, हैश टैश बाबरी मस्जिद, हैश टैग मंदिर वहीं बनेगा और हैश टैग रंजन गोगोई ट्विटर पर ट्रेंड कर रहा है। निर्णय के बाद फैसले को लेकर हजारों मिश्रित प्रतिक्रियाएं, मीम्स और जोक्स शेयर किए जा रहे हैं।

Ayodhya

एक ट्विटर यूजर ने लिखा, “सुप्रीम कोर्ट को अपने फैसले के अंत में कहना चाहिए था- हैप्पी बर्थ डे लालकृष्ण आडवाणी!”

दूसरे ने लिखा, “जब इतिहास लिखा जा रहा हो, तो इसे सामने देखना अच्छा लगता है। यह एक ऐसी कहानी है, जो मैं अपने नाती-पोतों को सुनाऊंगा। हम राम मंदिर के साक्षी बने।”

social media 1

अन्य ने लिखा, “सभी हिंदुओं को चाहिए कि वे 92 साल के वकील के. परसन का शुक्रिया अदा करें, जिन्होंने रामलला विराजमान के लिए केस लड़ा और राम मंदिर निर्माण के लिए दलील दी। धन्यवाद महोदय!”