‘जूता’ विवाद में फंसे योगी के मंत्री ने दी सफाई, कही यह बात

उत्तर प्रदेश के अल्पसंख्यक एवं डेयरी विकास मामलों के मंत्री चौधरी लक्ष्मी नारायण एक सरकारी कर्मचारी द्वारा उन्हें जूते पहनने में मदद करने का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद विवादों में आ गए हैं। यह घटना शाहजहांपुर में हुई थी, जहां मंत्री एक योग दिवस समारोह में भाग ले रहे थे।

Written by: June 22, 2019 12:31 pm

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के अल्पसंख्यक एवं डेयरी विकास मामलों के मंत्री चौधरी लक्ष्मी नारायण एक सरकारी कर्मचारी द्वारा उन्हें जूते पहनने में मदद करने का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद विवादों में आ गए हैं। यह घटना शाहजहांपुर में हुई थी, जहां मंत्री एक योग दिवस समारोह में भाग ले रहे थे।

UP Minister Laxmi Narayan

इस घटना का वीडियो तेजी से वायरल होने लगा। जब मामला मंत्री चौधरी के संज्ञान में आया तो उन्होंने न्यूज एजेंसी एएनआई से बातचीत में अपनी सफाई दी है। उन्होंने कहा है कि, “कोई भैया, भतीजा या परिवार का व्यक्ति यदि हमें जूता पहना दे, तो ये तो हमारा वो देश है जहां भगवान राम के खड़ाऊ रख के भरत जी ने 14 साल राज किया था, आपको तो इस बात की तारीफ करनी चाहिए।”

यह पहली बार नहीं है जब नारायण विवादों में फंसे हैं। 2018 में ‘दीपोत्सव’ कार्यक्रम के दौरान, उन्होंने दावा किया था कि राम ने भारत को एक वैश्विक महाशक्ति बनाया है। उसी वर्ष एक अन्य प्रकरण में उन्होंने हनुमान की जाति पर बहस के बीच दावा किया था कि हनुमान जाट समुदाय के हैं।