तो इस वजह से यूपी में जल्द होंगे चुनाव

2019 लोकसभा चुनाव में अकेले यूपी से 11 विधायक जीतकर सांसद निर्वाचित हुए हैं। इन विधायकों के जीतने के बाद विधानसभा में सीटें खाली होंगी। इससे राज्य में विधानसभा उप चुनाव का रास्ता खुल गया है। जो विधायक चुनाव जीत कर सांसद बने हैं, उनमें सबसे अधिक 8 विधायक भाजपा के हैं।

Written by Newsroom Staff May 25, 2019 7:48 pm

नई दिल्ली। 2019 लोकसभा चुनाव में अकेले यूपी से 11 विधायक जीतकर सांसद निर्वाचित हुए हैं। इन विधायकों के जीतने के बाद विधानसभा में सीटें खाली होंगी। इससे राज्य में विधानसभा उप चुनाव का रास्ता खुल गया है। जो विधायक चुनाव जीत कर सांसद बने हैं, उनमें सबसे अधिक 8 विधायक भाजपा के हैं।

समाजवादी पार्टी, बसपा और अपना दल से 1-1 विधायक सांसद बनने में कामयाब हुए हैं। उत्तर प्रदेश के अतिरिक्त मुख्य निर्वाचन अधिकारी (सीईओ) बीडीआर तिवारी ने कहा कि चुनाव जीतने वाले उम्मीदवारों से कहा जाएगा कि वे 10 दिन के भीतर तय करें कि वे विधायक रहना चाहते हैं या सांसद। विधायकों की तरफ से रिक्त स्थानों को भरने के लिए छह माह के भीतर चुनाव कराने होंगे।

Rita Bahuguna Joshi

बता दें कि लखनऊ कैंट से भाजपा विधायक रीता बहुगुणा जोशी ने इस बार इलाहाबाद से चुनाव जीता है। वहीं, टुंडला से भाजपा विधायक सत्यपाल सिंह बघेल आगरा से चुनाव जीते हैं। कानपुर लोकसभा सीट से सांसद बने सत्यदेव पचौरी कानपुर के गोविंद नगर से विधायक थे। सहारनपुर के गंगोह से विधायक प्रदीप कुमार कैराना सीट से चुनाव जीते हैं।

चित्रकूट के मानिकपुर से भाजपा विधायक आरके सिंह बांदा लोकसभा सीट से चुनाव जीते हैं। इस सूची में बाराबंकी के जैदपुर से भाजपा विधायक बाराबंकी से चुनाव जीते हैं। बहराइच के बल्हा से विधायक भी बहराइच संसदीय सीट से चुनाव जीतने में सफल रहे हैं। अलीगढ़ के इगलास विधानसभा क्षेत्र से विधायक ने हाथरस सीट जीती है।

प्रतापगढ़ से विधायक संगम लाल गुप्ता ने इसी संसदीय सीट से चुनाव जीते हैं। समाजवादी पार्टी के रामपुर खास से विधायक आजम खान पहली बार लोकसभा चुनाव में उतरे थे। आजम खान ने सपा के टिकट पर रामपुर से चुनाव जीता।