करतारपुर कॉरिडोर जाने वालों को देने होंगे 1420 रुपए, नीचता पर उतरा पाकिस्तान 

समझौते पर दस्तखत करने की प्रक्रिया के दौरान भी भारत ने पाकिस्तान सरकार से एक बार फिर श्रद्धालुओं से वसूली जाने वाली 20 डॉलर की सर्विस फीस के बारे में फिर विचार करने को कहा था। मगर पाकिस्तान नहीं माना।

Written by: October 21, 2019 6:44 pm
नई दिल्ली। भारत और पाकिस्तान के बीच करतारपुर कॉरिडोर के मसले पर पाकिस्तान ने एक बार फिर से अपनी घटिया सोच का परिचय दिया है। पाकिस्तान इस कॉरिडोर में आने वाले यात्रियों से 20 डॉलर की फीस वसूलने पर अड़ गया है। इस तरह से भारत की ओर से पाकिस्तान स्थित करतारपुर साहिब गुरुद्वारे जाने के लिए हर श्रद्धालु को करीब 1420 रुपये की फीस देनी होगी।
India Pakistan

करतारपुर कॉरिडोर को लेकर भारत और पाकिस्तान के बीच 23 अक्टूबर को एग्रीमेंट पर हस्ताक्षर होंगे। इस बीच भारत ने पाकिस्तान से फिर मांग की है कि तीर्थयात्रियों से 20 डॉलर शुल्क नहीं लिए जाएं।

india pak

पाकिस्तान लंबे समय से इस फीस के लिए अड़ा हुआ था। लेकिन भारत ने उसे कहा कि वह भक्ति के काज में पैसों की बात ना लाए। मगर पाकिस्तान इस पर राजी नहीं हुआ। आखिरकर भारत इस फीस पर राजी हो गया ताकि कॉरिडोर को जल्द शुरू कराया जा सके।

india pak 1

समझौते पर दस्तखत करने की प्रक्रिया के दौरान भी भारत ने पाकिस्तान सरकार से एक बार फिर श्रद्धालुओं से वसूली जाने वाली 20 डॉलर की सर्विस फीस के बारे में फिर विचार करने को कहा था। मगर पाकिस्तान नहीं माना। ऐसे में श्रद्धालुओं की इच्छा को देखते हुए और 12 नवंबर से पहले करतारपुर कॉरिडोर के शुरू हो जाने के मकसद से भारत ने अपनी सहमति दे दी।