Bengal: घर में घुसकर बीजेपी कार्यकर्ता की मां को बेरहमी से पीटा, TMC पर आरोप, FIR दर्ज

West Bengal Election: भाजपा(BJP) के आरोपों को टीएमसी(TMC) पूरी तरह से खारिज किया है। पनिहाटी विधानसभा से विधायक निर्मल घोष ने कहा कि यह घटना पूरी तरह से पारिवारिक मामला है।

Avatar Written by: February 28, 2021 5:38 pm

नई दिल्ली। पश्चिम बंगाल में चुनाव की तारीखों का ऐलान हो चुका है। 26 फरवरी को चुनाव आयोग ने घोषणा की कि, पश्चिम बंगाल में 8 चरणों में वोटिंग होगी। जिसमें पहला चरण 27 मार्च, दूसरा चरण 1 अप्रैल, तीसरा चरण 6 अप्रैल, चौथा चरण 10 अप्रैल, पांचवा चरण 17 अप्रैल, छठा चरण 22 अप्रैल, सातवां चरण 26 अप्रैल और आठवां चरण 29 अप्रैल को होगा। वहीं नतीजे 2 मई को आएंगे। ऐसे में बंगाल में हिंसा का दौर भी तेज होता जा रहा है। बता दें कि नया मामला कोलकाता से सटे उत्तर 24 परगना जिले से आया है। भारतीय जनता पार्टी का आरोप है कि निमता के बीजेपी कार्यकर्ता गोपाल मजूमदार के घर में घुसकर टीएमसी के तीन कार्यकर्ताओं ने उनकी मां पर हमला कर दिया और उन्हें बुरी तरह पीटा। जानकारी के अनुसार इस मामले में उत्तर दमदम थाने में एफआईआर (FIR) दायर किया गया है। बता दें कि पश्चिम बंगाल में चुनाव में हिंसा होना आम बात सी हो गई है। आए दिन राजनीतिक हिंसा की खबरें सामने आती रहती हैं।

bengal blur

 

बता दें कि भाजपा की तरफ से आरोप लगाया गया है कि, शनिवार को भाजपा के कार्यकर्ता गोपाल मजूमदार के घर पर टीएमसी के कार्यकर्ताओं ने धावा बोल दिया। इस हमले में गोपाल मजूमदार की मां गंभीर रूप से घायल हो गई हैं। जानकारी के अनुसार टीएमसी के कार्यकर्ता गोपाल के घर का दरवाजा तोड़कर घर में घुसे और उनकी मां को पीटने लगे। बता दें कि ये घटना उत्तरी दमदम इलाके में वॉर्ड 7 की है।

मीडिया को जानकारी देते हुए गोपाल मजूमदार की 85 वर्षीय मां ने मीडिया को बताया है, “बंदूक की बट से हमलावरों ने मेरे सिर और गर्दन पर हमला किया और मुझे मुक्का मारा। उन्होंने मेरे चेहरे पर भी हमला किया। मेरा पूरा शरीर बहुत दर्द कर रहा है, मुझे डर है कि वो लोग फिर से कहीं मुझ पर हमला ना कर दें, क्योंकि उन्होंने मुझे किसी को भी बताने से मना किया था।” गोपाल मजूमदार का कहना है कि उनपर पहले भी इस तरह के हमले किए जा चुके हैं।

bengal blur bjp gopal

 

हालांकि भाजपा के आरोपों को टीएमसी पूरी तरह से खारिज किया है। पनिहाटी विधानसभा से विधायक निर्मल घोष ने कहा कि यह घटना पूरी तरह से पारिवारिक मामला है। इसका टीएमसी से कोई लेना-देना नहीं है।

Support Newsroompost
Support Newsroompost