उन्नाव पीड़िता को हालत सुधरते ही दिल्ली भेजेगी योगी सरकार, स्थिति नाजुक

योगी सरकार उन्नाव पीड़िता को दिल्ली भेजने की तैयारी में है। उसे बेहतर इलाज के लिए एम्स में भर्ती कराया जा सकता है। योगी सरकार उसकी स्थिति में कुछ सुधार आते ही उसे एयर एंबुलेंस के जरिए एम्स भेज सकती है।

Written by: August 1, 2019 3:12 pm

नई दिल्ली। योगी सरकार उन्नाव पीड़िता को दिल्ली भेजने की तैयारी में है। उसे बेहतर इलाज के लिए एम्स में भर्ती कराया जा सकता है। योगी सरकार उसकी स्थिति में कुछ सुधार आते ही उसे एयर एंबुलेंस के जरिए एम्स भेज सकती है। सुप्रीम कोर्ट ने इस बारे में यूपी सरकार से जानकारी मांगी थी।

yogi 1

सुनवाई के दौरान सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस ने उन्नाव रेप केस में पीड़िता की मेडिकल रिपोर्ट मंगवाई। उन्होंने इसी बीच जानना चाहा कि पीड़िता की हालत कैसी है? क्या वह इस स्थिति में है कि उसे दिल्ली लाया जा सके? अगर स्थिति थोड़ी भी बेहतर होती है तो उसे एयर एंबुलेंस के जरिए दिल्ली के एम्स में भर्ती कराया जाए। सुप्रीम कोर्ट के इन निर्देशों के बाद यूपी सरकार हरकत में आ गई है।

Unnao accident

हालांकि यूपी सरकार की ओर से सुप्रीम कोर्ट को पीड़िता के वेंटिलेटर पर होने की जानकारी दी गई है। जब तक उसकी स्थिति में इस लायक सुधार नही आता कि उसे दिल्ली भेजा जा सके, उसे केजीएमयू में ही इलाज मुहैय्या कराया जाएगा। सुप्रीम कोर्ट ने पीड़िता के वकील के स्वास्थ्य के बारे में भी जानकारी ली।

Unnao protest

उधर केजीएमयू की तरफ से दोपहर को जो बुलेटिन जारी किया गया है, उसके मुताबिक पीड़िता की स्थिति अभी भी नाजुक है। उसका वकील भी वेंटिलेटर पर है। मुख्यमंत्री कार्यालय पीड़िता की स्थिति पर लगातार नजर बनाए हुए है। इस बीच कुलदीप सेंगर को बीजेपी से बाहर किया जा चुका है। पार्टी इस मामले में पीड़िता के साथ खड़े होने और सेंगर व उनके करीबियों के खिलाफ सख्त रुख अपनाने के लगातार सन्देश दे रही है।