योगी सरकार 18 फरवरी को पेश करेगी अपना चौथा बजट

उत्तर प्रदेश विधान मंडल का बजट सत्र 13 फरवरी से शुरू हो रहा है। यह 7 मार्च तक चलेगा। वर्ष 2020 के इस प्रथम सत्र का विस्तृत कार्यक्रम जारी कर दिया गया है। 18 फरवरी को योगी सरकार अपना चौथा बजट प्रस्तुत करेगी। यूपी सरकार का बजट लगभग 5 लाख करोड़ रुपये से ज्यादा होने की संभावना है।

Written by: February 7, 2020 11:30 am

लखनऊ। उत्तर प्रदेश विधान मंडल का बजट सत्र 13 फरवरी से शुरू हो रहा है। यह 7 मार्च तक चलेगा। वर्ष 2020 के इस प्रथम सत्र का विस्तृत कार्यक्रम जारी कर दिया गया है। 18 फरवरी को योगी सरकार अपना चौथा बजट प्रस्तुत करेगी। यूपी सरकार का बजट लगभग 5 लाख करोड़ रुपये से ज्यादा होने की संभावना है।

प्रमुख सचिव विधानसभा प्रदीप कुमार दुबे ने बताया कि सत्र के पहले दिन (13 फरवरी) को राज्यपाल आनंदी बेन पटेल विधानसभा और विधान परिषद की संयुक्त बैठक को संबोधित करेंगी। 14 फरवरी को राज्यपाल के अभिभाषण पर चर्चा आरंभ होगी। 15 और 16 फरवरी को बैठक नहीं होगी और 17 को अभिभाषण पर चर्चा जारी रहेगी।

उन्होंने बताया कि विधानसभा 18 फरवरी को बजट प्रस्तुत किया जाएगा। 19 को अभिभाषण पर चर्चा होगी और इसके बाद 20 फरवरी को बजट पर चर्चा आरंभ होगी। 21 को महाशिवरात्रि के अवकाश के बाद 22 व 23 फरवरी को भी बैठक नहीं होगी।

योगी सरकार के बजट में सरकार का धार्मिक और सांस्कृतिक एजेंडे पर प्रस्तुत होता दिखाई देगा। अयोध्या में पर्यटन के विकास के साथ ही अयोध्या एयरपोर्ट की स्थापना के लिए भी बजट दिए जाने की उम्मीद है। इसके अलावा पर्यटन विभाग ने इसके लिए मुख्यमंत्री पर्यटन संवर्धन योजना तैयार की है। विभाग प्रत्येक पर्यटन स्थल पर 50-50 लाख रुपए खर्च करेगा, इस योजना के लिए भी बजट मिलने की उम्मीद है।

ज्ञात हो कि 2019 में यूपी की योगी सरकार ने चार लाख 79 हजार 701 करोड़ 10 लाख रुपये (4,79,701.10 करोड़ रुपये) का अपना तीसरा बजट पेश किया था। यूपी सरकार का वह बजट उसके पिछले बजट के मुकाबले 12 प्रतिशत अधिक था।