राम मंदिर निर्माण: मुंबई में साधु ने त्यागा अन्न-जल… दी आंदोलन की चेतावनी (वीडियो)

Avatar Written by: October 13, 2018 6:19 pm

नई दिल्ली। एक तरफ अयोध्या में राम मंदिर निर्माण को लेकर जगह-जगह साधु संत पूजा अर्चना कर रहे है, तो वहीं मुंबई के आदियोगी गौतम स्वामी नवरात्रि में नौ दिन का तप कर रहे है। राम मंदिर बनवाने को लेकर आदियोगी ने नवरात्रि में नौ दिनों का अन्न-जल त्याग कर दिया है।

बता दें कि आदियोगी गौतम स्वामी जमीन पर लेटककर तप कर रहे हैं। उन्होंने अपने पुरे शरीर पर मिटटी का लेप लगा रखा है। उनका विश्वास है कि उनके इस तप के बाद राम मंदिर के निर्माण में आ रही सारी रुकावटें दूर हो जाएंगी और जल्द ही राम मंदिर का निर्माण होगा।

बात करते हुए आदियोगी गौतम स्वामी ने कहा कि मेरे इस तप से सारे विघ्न दूर हो जायेगे और जल्द ही राम मंदिर का निर्माण होगा। 9 दिन की मेरी कड़ी तपस्या होगी। साथ ही मोदी सरकार को चेतावनी देते हुए कहा कि अगर इसके बाद भी राम मंदिर निर्माण का द्वार नहीं खुला तो वो 6 महीने बाद जल समाधी लेंगे।

आदियोगी ने कहा कि भगवान राम के मंदिर को लेकर जिस तरह इस देश में गंदी राजनीति हो रही है, उससे वो काफी दुखी हैं। उन्होंने कहा कि जब साइंस भी इस बात को मान चुका है, कि वहां राम का मंदिर था, फिर इस पर राजनीति करने का क्या मकसद? उन्होंने कहा कि अगर राम मंदिर नहीं बना, तो वो मोदी सरकार के खिलाफ आंदोलन करेंगे, उन्हें विश्वास है कि ऐसा करने से भारत में राम मंदिर जरूर बनेगा।

उन्होंने कहा कि वो मां दुर्गा की पूजा कर रहे हैं, और उन्हें ऐसा आभास हो रहा है कि इससे सारे विघ्न दूर हो जाएंगे। राम मंदिर जल्द बन जाएगा।