बॉल टैम्परिंग विवाद: स्मिथ, वार्नर पर सीए ने लगाया एक साल का प्रतिबंध

Written by: March 28, 2018 3:06 pm

मेलबर्न। इस आशय की रिपोर्ट है कि केपटाउन टेस्ट में गेंद से छेड़छाड़ के दोषी पाए गए आस्ट्रेलिया क्रिकेट टीम के कप्तान स्टीव स्मिथ और उप-कप्तान डेविड वार्नर पर क्रिकेट आस्ट्रेलिया (सीए) ने एक साल का प्रतिबंध लगा दिया है। क्रिकेट डॉट कॉम डॉट एयू ने अपनी रिपोर्ट में लिखा है कि सीए ने बॉल टैम्परिंग विवाद में शामिल स्मिथ और वार्नर को दोषी पाए जाने के बाद उन पर एक साल का प्रतिबंध लगा दिया है, वहीं इस विवाद में शामिल सलामी बल्लेबाज कैमरून बेनक्रॉफ्ट को नौ महीने के लिए प्रतिबंधित कर दिया गया है।
Steve Smith, David Warnerसीए के मुख्य कार्यकारी अधिकारी जेम्स सदरलैंड ने मंगलवार देर रात एक संवाददाता सम्मेलन कर तीनों खिलाड़ियों को बॉल टैम्परिंग का दोषी पाया था। सीए द्वारा इस मामले में की गई जांच में इन तीनों खिलाड़ियों को बोर्ड की आचार संहिता के अनुच्छेद 2.3.5 का दोषी पाया गया था।

Steve Smith and Baancroft

सीए ने इन तीनों खिलाड़ियों को दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ खेली जा रही चार टेस्ट मैचों की सीरीज से बाहर कर दिया और तत्काल प्रभाव से स्वदेश लौटने को कहा। इन तीनों के स्थान पर बोर्ड ने मैट रेनशॉ, जोए बर्न्‍स और ग्लैन मैक्सवेल को टीम में जगह दी है और टिम पेन को टीम का कप्तान बनाए रखा है।

ball tempering

केपटाउन में खेले गए तीसरे टेस्ट मैच में बेनक्रॉफ्ट को गेंद के साथ पीले टेप से छेड़छाड़ करते हुए कैमरे में कैद किया गया था। बाद मे स्मिथ और बेनक्रॉफ्ट ने यह बात मानी कि गेंद से छेड़खानी टीम की योजना थी। जांच में वार्नर इसमें शामिल पाए गए। इसके बाद सीए ने स्मिथ और वार्नर को तीसरे टेस्ट मैच के बाकी दिनों के लिए इनके पदों से हटा दिया था। अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) ने भी स्मिथ पर एक टेस्ट मैच का प्रतिबंध, पूरी मैच फीस का जुर्माना और बेनक्रॉप्ट पर मैच फीस का 75 फीसदी जुर्माना लगाया था।