बुलंदशहर हिंसा पर बोले एडीजी आनंद कुमार, कहा- SIT जांच में होगा इंस्पेक्टर की हत्या का खुलासा

Avatar Written by: December 4, 2018 3:02 pm

नई दिल्ली। यूपी में बुलंदशहर के स्याना गांव में कथित गोहत्या के शक में भड़की हिंसा में इंस्पेक्टर सुबोध कुमार सहित दो लोगों की मौत के मामले ने पूरे प्रदेश को झकझोर कर रख दिया है। इस मामले को लेकर अब सियासत भी जारी है।

इस बीच एडीजी (कानून-व्यवस्था) आनंद कुमार ने दावा किया है कि बुलंदशहर में हालात काबू में हैं। उन्होंने कहा कि पुलिस प्रशासन पूरी तरह से मुस्तैद है। 6 टीमें संभावित लोगों की तलाश में लगी हैं। सारी चीजें एसआईटी के जांच के दायरे में है। कुमार ने कहा कि जांच में जो भी दोषी पाया जाएगा, वह बच नहीं पाएगा।

आनंद कुमार ने कहा कि एसआईटी जांच के बाद ही हत्या का खुलासा होगा।


वहीं इस मामले पर प्रेस कॉन्फ्रेंस में आनंद कुमार ने साफ किया कि बुलंदशहर में किसी प्रकार का साप्रंदायिक तनाव नहीं है। अत्यधिक पुलिस बल वहां लगाया गया है। कुमार ने यह भी बताया कि 50-60 अज्ञात लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है जिसमें 27 लोग नामजद हैं। इसमें से 4 लोग अब तक गिरफ्तार किए जा चुके हैं। वहीं 4-5 लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ जारी है।

बजरंग दल के जिला संयोजक योगेश राज, भाजपा युवा स्याना के नगराध्यक्ष शिखर अग्रवाल, विहिप कार्यकर्ता उपेंद्र राघव का भी नामजद रिर्पोट दर्ज की गई थी। वहीं अब पुलिस ने बजरंग दल के जिला संयोजक योगेश राज को गिरफ्तार कर लिया है।

सुबोध हमारे लिए शहीद- आनंद कुमार 

परिवार की तरफ से सुबोध सिंह को शहीद का दर्जा देने की मांग पर एडीजी ने कहा कि वह हमारे लिए शहीद ही हैं। उन्होंने कहा कि उनका पूरे राजकीय सम्मान के साथ सलामी दी गई है। शहीद का दर्जा दिया गया है। हम उनको नमन करते हैं। एडीजी (कानून-व्यवस्था) ने कहा, ‘घटना के विडियो फुटेज पर्याप्त हैं। चश्मदीद के बयान भी हैं। कोई निर्दोष जेल नहीं जाएगा। एसआईटी का गठन इसीलिए किया गया है। दोषियों को छोड़ा नहीं जाएगा।’