विपक्ष के प्रोपेगेंडा को लेकर परेश रावल ने किया सच उजागर, शेयर की ऐसी तस्वीर जिसे देख आप भी दंग रह जाएंगे

Avatar Written by: November 15, 2018 2:18 pm

नई दिल्ली। 2019 से पहले पांच राज्य के विधानसभा चुनावों का बिगुल बज उठा है, जिसमें छत्तीसगढ़ में पहले चरण की वोटिंग शुरू हो चुकी है। चूंकि विधानसभा चुनावों का रुख ही तय करेगा कि 2019 में जीत का सेहरा पीएम मोदी के सिर बंधता है, या फिर महागठबंधन बढ़त पाता है। हालांकि ये भी सच है कि पीएम मोदी के साढ़े चार सालों के कार्यकाल में कोई भी बड़ा घोटाला सामने नहीं आया है, पर विपक्ष है कि किसी भी कीमत पर पीएम मोदी को कुर्सी पर देखना मुनासिब नहीं समझता।naidu with rahul, mahagathbandhanहालांकि कांग्रेस हमेशा किसी ना किसी बहाने बीजेपी को घेरती रहती है। राहुल गांधी का सीधा निशाना पीएम मोदी पर होता है। कांग्रेस ये साबित करने में जुटी है कि राफेल एक घोटाला है, ताकि बीजेपी को घेरा जा सके। हालांकि दसॉल्ट के सीईओ ने इस पर भी कांग्रेस का मुंह बद कर दिया है। फिर भी राहुल गांधी पीएम पर आरोप लगाते ही रहते हैं।
तो वहीं एनडीए में सत्ता के भागीदार रहे चंद्रबाबू नायडू तीसरे मोर्च की घेराबंदी में जुट चुके हैं। लिहाजा नायडू विपक्षी दलों को एकजुट करने के मिशन पर लगे हैं। बता दें कि महागठबंधन में शामिल होने की शर्त भी सिर्फ एक ही है वो है बीजेपी का विरोध। इधर बीजेपी और 44 पार्टियों के विशाल मंच एनडीए के सामने अपना घर बचाने और नए सहयोगी बनाने की चुनौती है।
party alliance congress bsp2हालांकि ये बात भी अलग है कि राजनीति के चाणक्य कहे जाने वाले शाह किसी ना किसी तरह अपने सहयोगियों को साधने में कामयाब हो ही जाते हैं। जानकारों के मुताबिक, 2019 में महाराष्ट्र में शिवसेना बीजेपी के साथ ही मिलकर लोकसभा चुनाव लड़ेगी, और बिहार में भी शाह नीतीश को साधने में कामयाब रहे हैं।

चूंकि महागठबंधन की पहली और आखिरी शर्त यही है बीजेपी और खासकर मोदी विरोध। ऐसे में बीजेपी भी अपने विरोधियों पर निशाना साधने का कोई मौका नहीं छोड़ रही है। ऐसे में बीजेपी सांसद परेश रावल ने ट्वीट कर एक पोस्टर शेयर किया है, जिसमें उन्होंने कुछ इस तरह निशाना साधा है।

11 दिसंबर को आने वाले 5 राज्यों के विधानसभा चुनावों का रिजल्ट तय करेंगे कि 2019 में सत्ता का सिंहासन किसका होगा ।