चरखा: नृत्य गायन एवं वादन के साथ विमर्श कराएगा लोगों को संस्कृति का ज्ञान

Avatar Written by: October 3, 2018 9:41 pm

नई दिल्ली। 4 से लेकर 6 अक्टूबर तक गांधी स्मृति एवं दर्शन समिति और संस्कार भारती कला-संस्कृति संगम नाम से एक संयुक्त आयोजन किया जा रहा है। जिसमें देश के कई राज्यों की संस्कृति, भाषा, बोली, रहन-सहन, वेश-भूषा वाले लोग शिरकत करेंगे। जिसमें अहिंसा एवं भारतीयता, भारत एवं नारी और भारत का दृष्टिकोण खास विषय होंगे, जिन पर विस्तार से चर्चा होगी। इसके अलावा और भी कई विषयों पर विमर्श किया जाएगा।बता दें कि महात्मा गांधी की 150वीं जयंती के उपलक्ष्य में इस कार्यक्रम को आयोजित किया जा रहा है। कला एवं संस्कृति के अनूठे संगम वाले इस कार्यक्रम में आठों शास्त्रीय नृत्यों की एक साथ एक मंच पर प्रस्तुति होगी।

दरअसल, 4-5 अक्टूबर को गायन एवं वादन का कार्यक्रम रखा गया है, जिसमें देश की जानी-मानी हस्तियां शिरकत करेंगी। साथ ही सांस्कृतिक ज्ञान को लेकर भी कार्यक्रम होगा। 6 अक्टूबर की शाम को एक भव्य कार्यक्रम का आयोजन किया गया है।

इसके अलावा एक ध्रुपद कार्यक्रम का आयोजन भी रखा गया है, जिसमें ध्रुपद के सबसे प्रतिष्ठित घराने डागर परिवार को बुलाया गया है। इस कार्यक्रम में आरएसएस के संघ सह सरकार्यवाहक सुरेश सोनी भी शिरकत करेंगे। विशिष्ट अतिथि के रूप में राज्यसभा सांसद डॉक्टर अनिल जैन भी शिरकत करेंगे। साथ ही एक संवाद कार्यक्रम में डॉक्टर अश्विन दलवी भी शिरकत करेंगे। संगीत नाट्य अकादमी की चेयरमैन और लोक नायिका मालिनी अवस्थी भी शिरकत करेंगी।mahesh Sharma

5 अक्टूबर को कार्यक्रम में केंद्रीय मंत्री डॉक्टर महेश शर्मा भी शिरकत करेंगे। इस दिन संतूर वादक पंडित भजन सोपोरी(पद्मश्री) एवं अभय सोपोरी अपनी खास प्रस्तुति देंगे। दूसरे दिन के कार्यक्रम में इंदिरा गांधी राष्ट्रीय कला केंद्र के सदस्य डॉ. सच्चिदानंद जोशी का सानिध्य प्राप्त होगा।Sushma Swaraj6 अक्टूबर को कार्यक्रम का समापन होगा। शनिवार शाम 6 से 9 बजे तक चलने वाला कार्यक्रम गांधी स्मृति राजघाट दिल्ली में आयोजित किया जाएगा। इस दिन आठों शास्त्रीय नृत्यों(कुचिपड़ी, भरतनाट्यम, ओडिसी, कथक, कथकली और मणिपुरी) की एक मंच पर एक साथ प्रस्तुति भी होगी।

इस दिन के कार्यक्रम में विदेश मंत्री सुषमा स्वराज आरएसएस के सह सरकार्यवाहक डॉक्टर कृष्ण गोपाल विशिष्ट अतिथि के रूप में शि