सबरीमाला पहुंची 11 महिलाओं के खिलाफ विरोध प्रदर्शन

Avatar Written by: December 23, 2018 9:35 am

सबरीमाला। केरल के सबरीमाला में मंडला पूजा शुरू होने से कुछ दिन पहले एक बार विरोध प्रदर्शन शुरू हो गया है। यह विरोध प्रदर्शन रविवार को 11 महिलाओं के भगवान अय्यपा मंदिर में पूजा-अर्चना के लिए चढ़ाई करने को लेकर शुरू हुआ है। तमिलनाडु से आईँ ये महिलाएं मंदिर में प्रवेश को लेकर अब तक प्रतिबंधित रहे 10 से 50 आयु वर्ग से आती हैं। इन महिलाओं ने कहा है कि वे मंदिर में पूजा किए बगैर नहीं लौटेंगी। Sabrimala

सर्वोच्च न्यायालय द्वारा 28 सितंबर को हर आयु वर्ग की महिलाओं को मंदिर में प्रवेश की अनुमति देने का फैसला किए जाने के बाद से सबरीमाला में हिंदू समूहों द्वारा लगातार विरोध प्रदर्शन किया जा रहा है। मंदिर में पहले 10 साल की उम्र से लेकर 50 वर्ष की महिलाओं के प्रवेश करने पर प्रतिबंध था।

सर्वोच्च न्यायालय के फैसले के बाद खास आयु वर्ग की करीब दो दर्जन महिलाएं पहले ही मंदिर में प्रवेश करने की कोशिश कर चुकी है और वह मंदिर जाने में विफल रही है।

सर्वोच्च न्यायालय के फैसले का भगवान अय्यपा के भक्त का विरोध कर रहे हैं।Sabrimala

11 महिलाओं वाला तमिलनाडु का समूह आधार शिविर पर रविवार तड़के 5.30 बजे पहुंचा। समूह अभी पंबा आधार शिविर पर रुका है।

सैकड़ों नाराज प्रदर्शनकारी भी दृढ़ता से अड़े हुए हैं और मंदिर की परंपरा का उल्लंघन न करने देने की नारेबाजी कर रहे हैं। यह प्रदर्शनकारी महिला भक्तों से कुछ मीटर की दूरी पर है। प्रदर्शनकारी भगवान अय्यपा के भजन गा रहे हैं और महिलाओं से वापस जाने को कह रहे हैं।Sabrimala Mandir

एक नाराज श्रद्धालु ने कहा, “हम सबरीमाला मंदिर की परंपरा व रिवाज को सुरक्षित रखने के लिए अपनी जान दे देंगे लेकिन किसी भी परिस्थिति में इन महिलाओं को पहाड़ी पर चढ़ने की अनुमति नहीं दी जाएगी।”

Support Newsroompost
Support Newsroompost