(Video)सिंधिया ने शिवराज को बताया सबसे बड़ा ढ़ोंगी, पीएम मोदी पर भी लगाए ये आरोप

Written by: November 13, 2018 3:31 pm

नई दिल्ली। मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव से पहले राजनीतिक सरगर्मियां तेज हो चली है। बयानबाजियों का भी दौर भी जोरों पर है। चुनाव प्रचार समिति के अध्यक्ष और गुना सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया ने मुख्यमंत्री शिवराज पर हमला बोला है। सिंधिया ने पीएम मोदी के अंदाज में उनकी नकल करते हुए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को सबसे बड़ा ढोंगी करार दिया है।

सिंधिया ने सोमवार को मूसाखेड़ी चौराहा पर कांग्रेस की एक चुनाव सभा में कहा, ‘दिल्ली में बड़े साहब के तौर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बैठे हैं, उत्तरप्रदेश में हैं योगी जी (मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ) और मध्य प्रदेश में शिवराज के रूप में हैं सबसे बड़े ढोंगी जी।’

Congress leader Jyotiraditya Scindia is copying Modi style of campaigning…

SeeCongress leader Jyotiraditya Scindia is copying Modi style of campaigning… Video

Posted by Newsroom Post on 2018 m. lapkričio 13 d., antradienis

 

सिंधिया ने दावा किया कि शिवराज ने 21,000 हजाए ऐसी घोषणाएं की हैं, जिनमें से एक एक भी पूरी नहीं हो पाई है। वहीं प्रदेश कांग्रेस की चुनाव अभियान समिति के प्रमुख ने कहा, ‘मैं शिवराज की तरह घोषणावीर नहीं हूं।’ उन्होंने सड़कों की कथित बदहाली पर शिवराज सरकार को घेरते हुए कहा, ‘बड़े-बड़े गड्ढों के कारण सूबे की सड़कें मौत के अड्डों में बदल गई हैं लेकिन शिवराज कहते हैं कि ये सड़कें अमेरिका की सड़कों से बेहतर हैं। दरअसल, हमेशा उड़नखटोले में सवार रहने वाले मुख्यमंत्री को 20,000 फुट की ऊंचाई से सड़क का गड्ढा भी मखमल की तरह मुलायम नजर आता है।’

इसके साथ ही सिंधिया ने प्रदेश में बीजेपी सरकार के राज में नौकरियों में भारी कमी का आरोप लगाते हुए कहा कि उच्च शिक्षा हासिल करने वाले युवाओं की अंकसूची बेरोजगारी के प्रमाणपत्र में बदल गई हैं और 40 लाख नौजवान आजीविका के लिए दर-दर भटक रहे हैं। नोटबंदी पर केंद्र सरकार को घेरते हुए सिंधिया ने कहा, ‘प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को एक दिन लगा कि उन्हें कोई तूफानी कदम उठाना चाहिए और उन्होंने नोटबंदी का फैसला कर दिया लेकिन इस कदम से कई दिहाड़ी मजदूरों की जिंदगी बर्बाद हो गई।’

इतना ही नहीं सिंधिया ने जिले के सेंधवा विधानसभा क्षेत्र के बलवाड़ी में जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना एक बड़ा घोटाला है जिसके तहत किसानों की अनुमति के बगैर उनके खाते से राशि काटकर 3,000 करोड़ एकत्रित किए गए और अतिवृष्टि और ओलावृष्टि के चलते 600 करोड़ रुपए के फसल नुकसानी के दावे विरुद्ध 50 करोड़ का भुगतान भी नहीं किया गया।

उन्होंने भारतीय जनता पार्टी की विभिन्न सरकारों के हर मोर्चे पर विफल रहने का दावा करते हुए कहा कि दिल्ली में मोदीजी, उत्तरप्रदेश में योगीजी और मध्यप्रदेश में सबसे बड़े ‘ढोंगीजी’ सत्ता पर काबिज हैं जिनका नारा ‘राम राम जपना, पराया माल अपना’ है।