सेना का बड़ा खुलासाः LoC पर बड़ी कार्रवाई, अपने जवान के साथ हुई बर्बरता का बदला कुछ इस तरह लिया सेना ने

Written by: September 29, 2018 5:03 pm

नई दिल्ली। पाकिस्तान के खिलाफ की गई सर्जिकल स्ट्राइक के दो साल पूरे होने के मौके पर एक बार फिर भारतीय सुरक्षाबलों ने मुंहतोड़ जवाब देकर अपने एक जवान की शहादत का बदला लिया है। सीमा सुरक्षाबल (बीएसएफ) ने बताया कि अपने सैनिक की मौत का बदला लेने के लिए हमने नियंत्रण रेखा (एलओसी) पर पर्याप्त कार्रवाई की है।BSF DG KK Sharma

बीएसएफ के निवर्तमान महानिदेशक के के शर्मा ने बताया, ‘अपने सैनिक (नरेंद्र शर्मा) की मौत का बदला लेने के लिए हमने नियंत्रण रेखा पर पर्याप्त कार्रवाई की है। हमारे पास उचित समय पर और अपनी पसंद के स्थान पर जवाबी कार्रवाई करने का अधिकार है।’ बीते 18 सितंबर को एलओसी पर पाकिस्तान की बॉर्डर एक्शन टीम के हमले में हेड कांस्टेबल नरेंद्र सिंह की शहादत हो गई थी। के के शर्मा ने बताया, ‘जिस समय यह घटना हुई, उस समय हमने देखा कि दूसरा पक्ष गायब हो गया। वे कहीं नहीं दिखे।’ उन्होंने कहा, ‘बी एस एफ ने बहुत कड़ी और मुंहतोड़ कार्रवाई की है दूसरे पक्ष को हमेशा के मुकाबले कहीं अधिक नुकसान पहुंचाया है। हम दोबारा भी यह करेंगे।’

30 सितंबर को सेवानिवृत्त होने जा रहे शर्मा ने बताया कि जवान के सीने में तीन गोलियां मारी गईं, उन्हें बाड़ के दूसरी तरफ खींचकर ले जाया गया, उनके पैर बांध दिए गए और गला रेत दिया गया। उन्होंने कहा, ‘शव को विकृत नहीं किया गया।’

इससे पहले गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने किया खुलासा

देश आज सर्जिकल स्‍ट्राइक की दूसरी वर्षगांठ मना रहा है, जब भारतीय सेना के जवानों ने रातों-रात नियंत्रण (LoC) पार कर पाकिस्‍तान के कब्‍जे वाले कश्‍मीर में आतंकियों के कई लॉन्‍च पैड्स ध्‍वस्‍त कर दिए थे। वहीं इस दौरान केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने सितंबर 2016 में पाकिस्तान में हुए सर्जिकल स्ट्राइक की वर्षगांठ के मौके पर एक बड़ा बयान देकर सभी चौंका दिया। उन्होंने अपने संबोधन में कहा कि हमारा पड़ोसी देश लगातार सीमा पर अशांति फैला रहा है। लोगों ने कुछ दिन पहले ही बीएसएफ के जवान के साथ हुई बर्बरता देखी।

उन्होंने कहा मैं आपको दावे के साथ कहना चाहतूं कि आप अगले कुछ दिनों में कुछ देखेंगे, हमारी सेना ने ऐसा कुछ किया है। मैं आपको अभी नहीं बतांऊगा कि क्या किया गया है। लेकिन जो किया जाना था वो किया जा चुका है। हमारे सैनिकों ने सबकुछ वैसे ही किया है जैसे उन्हें कहा गया था।

गृह मंत्री ने साफ तौर पर कहा कि भारत पहल नहीं करेगा, पर यदि उस पर हमला होता है तो जवाबी कार्रवाई से भी नहीं चूकेगा। उन्‍होंने शुक्रवार को आयोजित एक कार्यक्रम में पाकिस्‍तान को सीधे तौर पर चेतावनी दी।

सीमा पार जाकर सुरक्षा बलों की ओर से दो-तीन पहले किसी बड़ी कार्रवाई का संकेत देते हुए गृह मंत्री ने कहा, ‘मैंने अपने सीमा सुरक्षा बल के जवानों को कहा था, पड़ोसी है, पहले गोली मत चलाना। लेकिन एक भी गोली अगर उधर से चल जाती है तो फिर अपनी गोलियों को मत गिनना।’

उन्‍होंने साफ कहा कि भारतीय सेना व सुरक्षा बलों के साथ बर्बरता किसी भी सूरत में बर्दाश्‍त नहीं की जाएगी। उन्‍होंने पिछले दिनों रामगढ़ सेक्‍टर में पाकिस्‍तान रेंजर्स द्वारा बीएसएफ के हेड कांस्टेबल नरेंद्र कुमार की बर्बरतापूर्वक हत्या का जिक्र करते हुए कहा, ‘हमारे बीएसएफ के एक जवान के साथ पाकिस्‍तान ने जिस तरह की बदसलूकी की है, आपने देखा होगा।’

इतना ही नहीं उन्‍होंने संकेत दिया कि भारतीय सुरक्षा बलों ने अपने सपूत के साथ हुई इस बर्बरता का बदला ले लिया है और आगे भी जब कभी इस तरह की हिमाकत सीमा पार से होगी, उसे करारा जवाब दिया जाएगा।Union Home Minister Rajnath Singh उन्‍होंने कहा, ‘कुछ हुआ है, मैं बताऊंगा नहीं। हुआ है, ठीक ठाक हुआ है, विश्‍वास रखना बहुत ठीक ठाक हुआ है, 2-3 दिन पहले। आगे भी देखिएगा क्‍या होगा।’