ताजमहल की मस्जिद में पहुंचकर महिलाओं ने की पूजा… छिड़का गंगाजल

Written by: November 18, 2018 7:18 pm

नई दिल्ली। अंतरराष्ट्रीय हिंदू परिषद से जुड़ी तीन महिलाओं ने ताजमहल में बनी 400 साल पुरानी मस्जिद में पहुंचकर पूजा-अर्चनी की। इस संगठन की इन तीनों महिलाओं ने यहां पहुंचकर मस्जिद परिसर में बाकायदा ‘धूप-बत्ती’ जलाई और ‘गंगाजल’ भी छिड़का। सोशल मीडिया पर इस पूरे घटनाक्रम का विडियो वायरल हो रहा है।संगठन की जिला अध्यक्ष मीना देवी दिवाकर ने इस घटना पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा, कि अगर मुस्लिमों को यहां हर दिन नमाज पढ़ने की इजाजत है, तो फिर हम भी यहां हमारे तेजोमहालय में पूजा-अर्चना कर सकते हैं। बता दें कि कुछ संगठन ताजमहल को तेजमहालय कहते हैं

(सौजन्य:- NEWSतक)

हालांकि भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण विभाग का कहना है कि वो इस विडियो की प्रमाणिकता की जांच कर रहे हैं। जब पुरातत्व सर्वेक्षण विभाग के सुपरीटेंडिंग आर्कोलॉजिस्ट वसंत सावरंकर से मामले पर जवाब मांगा गया तो उन्होंने बताया, ‘हमने घटना की जानकारी मिलने के बाद ASI स्टाफ को घटनास्थल पर जांच के लिए भेज दिया था, लेकिन हमें वहां कोई धूप या पूजा की अन्य सामग्री नहीं मिली।उन्होंने कहा, ‘इस संदर्भ में लोकल पुलिस को सूचना दे दी गई है और CISF से भी CCTV फुटेज सौंपने को कहा है, ताकि इस दावे की सही पुष्टि की जा सके।’ सावरंकरन ने कहा, ‘अगर सीसीटीवी फुटेज से इस घटना की पुष्टि हो जाती है, तो इन हिंदू कार्यकर्ताओं के खिलाफ ऐक्शन लिया जाएगा।