मुलायम सिंह को मैनपुरी से लड़ाएंगे लोकसभा चुनावः शिवपाल सिंह

Written by: September 15, 2018 8:39 pm

नई दिल्ली। समाजवादी सेकुलर मोर्चा के संयोजक शिवपाल यादव का कहना है कि लोकसभा चुनाव के लिए मोर्चा मुलायम सिंह यादव को मैनपुरी से चुनाव लड़ाएंगे। सपा में किसी भी तरह की सुलह से इंकार करते उन्होंने कहा कि अगर नेताजी तैयार हुए तो वह उन्हें मोर्चे व नई पार्टी का अध्यक्ष भी बना देंगे।Mulayam Singh Yadav and Shivpal Yadav

शिवपाल ने कहा कि नेताजी (मुलायम) सभी विवादों से परे हैं। अगर वह किसी अन्य दल से कहीं से भी चुनाव लड़ते हैं मैं उनका समर्थन करता हूं। मैं उनका बेहद सम्मान करता हूं। शिवपाल सेकुलर मोर्चा की लखनऊ में आयोजित बैठक में बोल रहे थे।Shivpal Singh Yadav

शिवपाल ने शनिवार को यहां अपने आवास पर पत्रकारों से बातचीत में यह बात कही। उन्होंने कहा कि वह बढ़े कदम पीछे नहीं हटाएंगे। जो भी काम करेंगे खुल कर करेंगे। डंके की चोट पर करेंगे। जल्द वह नई पार्टी के नाम व झंडे के लिए चुनाव आयोग को आवेदन करेंगे। शिवपाल ने यह भी कहा कि वह चाहते हैं कि सपा बसपा के संभावित गठबंधन में उनके मोर्चे को रखा जाए और अगर ऐसा नहीं होता है तो वह सभी सीटों पर चुनाव लड़ेंगे। उनके खुद के सामने विकल्प के तौर पर चार पांच सीटें हैं।

akhilesh yadav and shivpal yadav

उन्होंने कहा कि जो लोग उनके भाजपा के करीब जाने का आरोप लगा रहे हैं, वह क्यों नहीं उन्हें गठबंधन में शामिल होने के लिए बुलाते हैं। शिवपाल ने कहा कि उनकी यह मुहिम नेताजी के आशीर्वाद से ही चल रही है और वह इस पर नेताजी से कई बार बात कर चुके र्हैं। उन्होंने दावा कि आने वाले लोकसभा चुनाव में उनके मोर्चे को बीस से तीस सीटें मिल सकती हैं। उन्होंने यह भी कहा हाल के लोकसभा उपचुनाव में उनके लगने से सपा को कामयाबी मिली। उन्होंने कि अब वह प्रदेश के दौरे पर निकलेंगे। सपा के प्रदेश अध्यक्ष रहे शिवपाल ने कहा कि भाजपा का जनाधार घटा है और सपा के बड़ी संख्या में उपेक्षित लोग उनसे जुड़ रहे हैं।

शिवपाल ने कहा कि उनकी भाजपा के किसी नेता से उनकी कोई मुलाकात नहीं हुई है। न वह उनके संपर्क में हैं। भाजपा की विचारधारा अलग है और हमारी अलग। वह समाजवादी विचारधारा मानने वाले उपेक्षित कार्यकर्ताओं को जोड़ने में लगे हैं। ऐसे में भाजपा से नजदीकी का सवाल ही नहीं। वह सीएम योगी आदित्यनाथ से जरूर मिलें हैं। जनप्रतिनिधि होने के नाते वह सीएम से मिलते हैं। वह भाजपा के नहीं पूरे प्रदेश के मुख्यमंत्री हैं।Shivpal Yadav

शिवपाल ने कहा कि आगामी लोकसभा चुनाव में उन्होंने सारे विकल्प खुले रखे हैं और गठबंधन के लिए सपा-बसपा से भी बात कर सकते हैं।