जानें, क्या है जल जीवन मिशन, इतनी रकम खर्च करेगी मोदी सरकार

पेयजल की सुरक्षा के लिए जल जीवन मिशन की नई योजना के बारे में बताया, जानें क्या है यह मिशन जिसमें साढ़े तीन लाख करोड़ की लागत लगेगी।

Written by: August 16, 2019 11:52 am

नई दिल्ली। जल ही जीवन है ये कहावत तो आपने बहुत पहले से सुनी होगी। लेकिन अब केन्द्र की मोदी सरकार जल को हर लोगों तक पहुंचाने और उनके जीवन को बेहतर बनाने के लिए एक्शन मोड में नजर आ रही है।

water

देश के 73वें स्वतंत्रता दिवस के मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लाल किले के प्राचीर से देश को संबोधित किया। अपने भाषण में उन्होंने जल क महत्ता, जल संरक्षण पर जोर दिया साथ ही पेयजल की सुरक्षा के लिए जल जीवन मिशन की नई योजना के बारे में बताया, जानें क्या है यह मिशन जिसमें साढ़े तीन लाख करोड़ की लागत लगेगी।

PM modi 15 August

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि आज देश में आधे से अधिक घर ऐसे हैं जिनमें पीने का स्वच्छ पानी उपलब्ध नहीं है। उनके जीवन का बड़ा हिस्सा पानी लाने में खप जाता है। इस सरकार ने हर घर में जल, पीने का पानी लाने का संकल्प किया है। आने वाले दिनों में जल जीवन मिशन को लेकर हम आगे बढ़ेंगे। इसके लिए केंद्र और राज्य मिल कर साथ काम करेंगे। साढ़े तीन लाख करोड़ से भी ज़्यादा इस पर खर्च करने का संकल्प किया है।

PM modi 15 August

जानें इस मिशन के बारे में

उन्होंने आगे कहा कि वर्षा के पानी को रोकने, समुद्री पानी, माइक्रो इरिगेशन, पानी बचाने का अभियान, सामान्य नागरिक सजग हो, बच्चों को पानी के महत्ता की शिक्षा दी जाए। प्रधानमंत्री ने लोगों को भरोसा दिलाते हुए कहा कि 70 साल में जो काम हुआ है अगले पांच वर्षों में उससे पांच गुना अधिक काम हो, हमें इसका प्रयास करना है और दिशा में निरंतर आगे बढ़ना चाहिए।

PM modi

जन सामान्य का अभियान बने

पेयजल की समस्या के बारे में प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि महुड़ी के जैन मुनि बुद्धि‍ सागर महाराज ने लिखा है कि भविष्य में एक दिन ऐसा आएगा जब पानी किराने की दुकान में बिकेगा। 100 साल पहले उनकी कही बात सही हो गई है। आज हम किराने की दुकान से पानी खरीदते हैं। उन्होंने कहा कि जल संचय का यह अभियान सरकारी नहीं बनना चाहिए, जन सामान्य का अभियान बनना चाहिए।