पौधे आधारित आहार का सेवन कर दिल का रखें बेहतर ख्याल

एक हालिया शोध में इस बात का खुलासा हुआ है कि जो लोग प्लांट बेस्ट डायट या पौधे आधारित आहार का सेवन करते हैं और मिठाई, रिफाइंड अनाज और जूस इत्यादि से परहेज करते हैं, उनके दिल का स्वास्थ्य उन लोगों से बेहतर रहता है, जो पौधे आधारित आहार का सेवन नहीं करते हैं।

Written by: March 20, 2020 2:22 pm

लंदन। एक हालिया शोध में इस बात का खुलासा हुआ है कि जो लोग प्लांट बेस्ट डायट या पौधे आधारित आहार का सेवन करते हैं और मिठाई, रिफाइंड अनाज और जूस इत्यादि से परहेज करते हैं, उनके दिल का स्वास्थ्य उन लोगों से बेहतर रहता है, जो पौधे आधारित आहार का सेवन नहीं करते हैं। साल 2002 में शुरू हुए इस शोध में 10 साल की अवधि में शोधकर्ताओं ने 2,000 से अधिक ग्रीक वयस्कों के खान-पान और उनके दिल पर इसके प्रभाव पर नजर रखा।

heart

प्रतिभागियों को नामांकन के वक्त पांच और 10 साल के बाद विस्तृत भोजन आवृत्ति सर्वेक्षण को पूरा करने के लिए कहा गया था। ग्रीस में हेरोकॉपियो विश्वविद्यालय के प्राध्यापक और इस शोध के प्रमुख अध्ययनकर्ता डेमोस्थेनीज पानाजिओटाकोज ने कहा, “दैनिक जीवन में डिब्बाबंद मीट जैसे पशु आधारित उत्पादों की खपत में थोड़ी-सी कमी लाकर पौधे आधारित आहार के सेवन में वृद्धि लाने से यह हृदय के बेहतर स्वास्थ्य में अपना अहम योगदान दे सकता है।”

healthy heart

अध्ययन की अवधि के अंत तक शोधकर्ताओं ने आहार और हृदय रोगों के बीच संबंध का विश्लेषण एक आहार सूचकांक का उपयोग करते हुए किया, जिसमें पशु आधारित खाद्य उत्पादों (इसमें मीट, अंडे, दुग्ध उत्पाद जैसी पशुओं से मिलने वाली कई खाने-पीने की चीजें शामिल थी) के आधार पर प्रतिभागियों को तीन समूहों में विभाजित किया गया, जिनका सेवन वे प्रतिदिन करते थे।

Heart Transplant

कुल मिलाकर देखा गया कि पशु आधारित खाद्य पदार्थो का सेवन जो ज्यादा करते हैं, उनकी तुलना में जो इन्हें कम खाते हैं, उनमें हृदय रोगों के विकास होने की संभावना 25 प्रतिशत तक कम देखी गई। अमेरिका में 28-30 मार्च को वर्ल्ड कांग्रेस ऑफ कार्डियोलॉजी के साथ अमेरिकी कॉलेज ऑफ कार्डियोलॉजी के वार्षिक सत्र में इस शोध को प्रस्तुत किया जाएगा।