अकबर मामले पर बोलीं स्मृति ईरानी, जिस पर सवाल उठे हैं, उन्हें जवाब देना चाहिए’

नई दिल्ली। पूर्व संपादक एवं विदेश राज्यमंत्री एम.जे. अकबर के खिलाफ लगे यौन उत्पीड़न के आरोपों के बीच केंद्रीय कपड़ा मंत्री स्मृति ईरानी ने गुरुवार को कहा कि ‘जिन महाशय पर सवाल उठे हैं, वही इसका जवाब देने की बेहतर स्थिति में हैं।’ यौन उत्पीड़न के खिलाफ देश में बढ़ते ‘मी टू’ अभियान में अकबर के खिलाफ आरोपों पर प्रतिक्रिया देने वाली स्मृति ईरानी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी टीम की दूसरी मंत्री हैं। उनसे पहले महिला एवं बाल विकास मंत्री मेनका गांधी ने इस पर टिप्पणी की थी।Union Minister Smriti Irani

ईरानी ने कहा, “मीडिया कि सराहना करती हूं कि वे अपनी महिला सहकर्मियों के साथ खड़ा है। लेकिन मुझे लगता है जिस व्यक्ति पर सवाल उठे हैं, उसे ही इसका जवाब देना चाहिए, मुझे नहीं।”

MJ Akbar
स्मृति ईरानी बोलीं जिस पर सवाल उठे हैं, उन्हें जवाब देना चाहिए

ईरानी ने कहा कि वह मुद्दे पर लगातार और बार बार बोलती रही हैं, विशेषकर महिलाओं के आवाज उठाने को लेकर। उन्होंने कहा कि यौन उत्पीड़न की घटनाओं को सामने लाने वाली महिलाओं का ना तो मजाक उड़ाना चाहिए और न ही उन्हें शर्मिंदा किया जाना या शिकार बनाया जाना चाहिए।Union Minister Smriti Irani

उन्होंने कहा, “यह उन लोगों के लिए मेरी एकमात्र अपील है, जो इस क्रोध की भावना को इंटरनेट और ऑफलाइन तरीके से बाहर निकलता हुआ देख रहे हैं।”

कई महिला पत्रकारों द्वारा अकबर के खिलाफ यौन उत्पीड़न के आरोप लगाए जाने पर विपक्षी दलों की कड़ी अलोचना झेलने के बाद भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की नेता की यह टिप्पणी आई है। विपक्षी दलों ने अकबर को पद से हटाने की भी मांग की है।

Facebook Comments