प्रत्यक्ष कर संग्रह सितंबर तक 5.47 लाख करोड़ रुपये

Avatar Written by: October 4, 2018 8:14 pm

नई दिल्ली। चालू वित्त वर्ष 2018-19 (अप्रैल-मार्च) की पहली छमाही में प्रत्यक्ष कर से सरकार के राजस्व में पिछले साल की समान अवधि के मुकाबले 16.7 फीसदी का इजाफा हुआ है। सरकार की ओर से जारी अस्थायी आंकड़ों के अनुसार, चालू वित्त वर्ष के सितंबर महीने तक सकल प्रत्यक्ष कर संग्रह की राशि 5.47 लाख करोड़ रुपये है। 2000 Rs & 500 Rs Noteवित्त मंत्रालय की ओर से जारी विज्ञप्ति के मुताबिक, पिछले वित्त वर्ष की पहली छमाही में सकल प्रत्यक्ष कर संग्रह की राशि 10,254 करोड़ रुपये में इन्कम डिक्लेरेशन स्कीम के तहत संग्रह किया गया कर भी शामिल था।

महंगाई भत्ता Note
प्रत्यक्ष कर संग्रह 5.47 लाख करोड़ रुपये 

मंत्रालय ने कहा, “अप्रैल से लेकर सितंबर महीने तक 1.03 लाख करोड़ की वापसी(रिफंड) की गई है, जोकि पिछले साल की समान अविध में वापसी की रकम से 30.4 फीसदी अधिक है।”

वित्त मंत्रालय के मुताबिक रिफंड का समायोजन करने के बाद शुद्ध कर संग्रह की राशि 14 फीसदी की बढ़त के साथ 4.44 लाख करोड़ रुपये रही है।

विज्ञप्ति के अनुसार, शुद्ध कर संग्रह की राशि वित्त वर्ष 2018-19 के अनुमानित कुल प्रत्यक्ष कर बजट का 38.6 फीसदी है।