इमरान का ग़ज़ब फरमान… PAK में लगेगा ‘पाप’, सिगरेट और शरबत पीने पर देना पड़ेगा ये टैक्स

नई दिल्ली। पाकिस्तान के लोगों को अब ‘पाप कर’ भी चुकाना होगा, यानी अब उन्हें सिगरेट और शर्बत पीने पर सिन टैक्स देना पड़ेगा। स्वास्थ्य बजट को बढ़ाने के लिए पाकिस्तान अब सिगरेट और शर्बतों पर जल्द ही ‘पाप कर (सिन टैक्स)’ लगाने जा रहा है। देश के स्वास्थ्य मंत्री अमीर महमूद कियानी ने ये जानकारी दी है।स्थानीय मीडिया के अनुसार पाक के स्वास्थ्य मंत्री अमीर महमूद कियानी ने जन स्वास्थ्य सम्मेलन में कहा कि उनकी पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ सरकार देश के सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) के पांच प्रतिशत वाला स्वास्थ्य बजट बनाना चाहती है और इस काम के लिए उसे आमदनी बढ़ानी होगी। आमदनी को बढ़ाने के लिए ही सरकार कई तरह के उपाय कर रही है।इसके लिए सरकार कई तरह के उपाय अमल में ला रही है। इनमें से एक तरीका यह है कि तंबाकू उत्पादों और मीठे पेयों पर एक पाप कर (सिन टैक्स) लगा दिया जाए और इससे जो आमदनी होगी उसे स्वास्थ्य बजट में शामिल कर दिया जाए। अभी सरकार स्वास्थ्य पर जीडीपी का केवल दशमलव छह फीसदी ही खर्च करती है।इसका मुख्य मकसद लोगों को ऐसे प्रोडक्ट्स या सेवाओं के उपयोग को लेकर हतोत्साहित करना है। इसके अलावा इन प्रोडक्ट्स पर अधिक टैक्स लगाना टैक्स रेवेन्यू को बढ़ाने का सबसे आसान तरीका माना जाता है, क्योंकि लोग इस प्रकार की चीजों पर टैक्स लगाने का विरोध नहीं करते।सिन टैक्स यानी पाप कर शराब, सिगरेट, पोर्नोग्राफी और जुओं पर लगने वाला डाइरेक्ट टैक्स है। जो इन चीजों को बनाने या फिर होलसेलर पर लगाया जाता है। इस टैक्स से आने वाली रकम को सामाजिक और आर्थिक लक्ष्यों को पूरा करने में लगाया जाता है।

अमेरिका में भी सिन टैक्स की रकम को इंफ्रास्ट्रक्चर में लगाया जाता है। स्वीडन में इस कर से आने वाली राशि को जुए की लत से परेशान लोगों की मदद में लगाया जाता है।

Facebook Comments