सैफी मस्जिद से पीएम मोदी बोले, बोहरा समुदाय सबको साथ लेकर चलता है

  • 1.1K
  •  
  •  
  •  
  •  
    1.1K
    Shares

इंदौर (मध्य प्रदेश)। इंदौर के सैफी मस्जिद पहुंचे प्रधानंमत्री नरेंद्र मोदी ने बोहरा समुदाय और उसकी राष्ट्रभक्ति को लेकर कई बातें कही। पीएम मोदी ने कहा कि बोहरा समुदाय सबको साथ लेकर चलता है। राष्ट्रभक्ति पर बोहरा समुदाय की महत्वपूर्ण भूमिका रही है। उन्होंने कहा कि बोहरा समुदाय से पुराना रिश्ता रहा है। उनके साथ मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान भी मौजूद थे।

पीएम मोदी ने कहा कि देश के लिए कैसे जीया जाता है यह बोहरा समुदाय ने सिखाया। उन्होंने कहा कि मुझे जन्मदिन के लिए पवित्र मन से आशीर्वाद मिला है। पीएम ने अपने गृह राज्य का जिक्र करते हुए कहा कि गुजरात में हर जगह बोहरा कारोबारी है।

PM Narendra Modi

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, जीएसटी, इनसॉल्वेंली और बैंकरप्टसी कोड जैसे अनेक कानूनों के माध्यम से ईमानदार कारोबारियों को प्रोत्साहित किया जा रहा है। देश का व्यापारी और कारोबारी अर्थव्यवस्था की रीढ है। वो देश में रोज़गार पैदा करने वाली महत्वपूर्ण ईकाई है। उसको जितना प्रोत्साहन संभव है दिया जा रहा है।

पीएम मोदी ने कहा, कल से स्वच्छता ही सेवा’ पखवाड़ा शुरु हो रहा है। मैं कल खुद देश के स्वच्छाग्रहियों, समाज में स्वच्छता के प्रति जनजागरण करने वाले आप जैसे नागरिकों, धर्मगुरुओं, कलाकारों, उद्यमियों, यानि समाज के हर वर्ग के लोगों से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से बातचीत करुंगा।

Narendra Modi Mosque Indoreहज़रत इमाम हुसैन की शहादत की याद में दाऊदी बोहरा समुदाय द्वारा आयोजित अशर-ए-मुबारका कार्यक्रम में पीएम मोदी के साथ मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान भी शामिल हुए। इस अवसर पर शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि पीएम मोदी लगातार, बिना रुके देश की तरक्की के लिए काम कर रहे हैं।

Narendra Modi Mosque Indore

उन्होंने कहा कि बोहरा समाज ने महिलाओं-बच्चों के लिए बहुत काम किया है। शिवराज सिंह ने कहा कि दाऊदी बोहरा समाज अपनों से प्यार और दूसरों की मदद करने में आगे है। उज्जैन देश के सबसे अच्छे शहरों में से एक है और इसमें दाऊदी बोहरा समाज का काफी महत्वपूर्ण योगदान है।

Narendra Modi Mosque Indore

दाऊदी बोहरा समुदाय के सैयदना 53वें धर्मगुरु हैं, उनके 12 सितंबर से यहां धार्मिक प्रवचन चल रहे हैं। सैयदना पहली बार इंदौर आए हैं, इससे पहले उनका सूरत में आना हुआ था। सैयदना के पिता अपने जीवनकाल में दो बार इंदौर आए थे।

Narendra Modi Mosque Indore

एक रिपोर्ट के मुताबिक, सिर्फ इंदौर में ही दाऊदी बोहरा समुदाय की आबादी 35,000 के आस-पास है। इस आबादी का करीब 40 प्रतिशत हिस्सा शहर के उस पश्चिमी क्षेत्र में बसा है, जहां सत्तारूढ़ भाजपा का सियासी दबदबा है। दाऊदी बोहरा समुदाय के ज्यादातर स्थानीय लोग परंपरागत रूप से व्यापार-व्यवसाय से जुड़े हैं। और ये भी बता दें कि सैयदना मुफद्दल सैफुद्दीन को शिवराज सरकार ने राजकीय अतिथि का दर्जा दिया है।

Facebook Comments