घर खरीदने वालों के लिए बड़ी खूशखबरी, लोन पर होगी 7 लाख रुपये तक की बचत

यह अवसर होम लोन के ब्याज पर आयकर छूट की सीमा 2 लाख से बढ़ाकर 3.5 लाख रुपये करने से बना है। इस फैसले से 45 लाख रुपये कीमत तक के घर खरीदने पर 15 साल की लोन अवधि में 7 लाख रुपये की बचत होगी।

Written by Newsroom Staff July 7, 2019 10:44 am

नई दिल्ली। लोग अपना घर का सपना देखते हैं और उसे पूरा करने के लिए लोन लेते हैं। लेकिन लोन के ब्याज की वजह से बहुत कम ही लोग ऐसा कर पाते हैं। लेकिन मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल के पहले बजट में घर खरीदने वालों के लिए बड़ी खूशखबरी मिली है। होम लोन लेने वालों के लिए बजट एक सुनहरा अवसर लेकर आया है।

home loan 1

दरअसल, यह अवसर होम लोन के ब्याज पर आयकर छूट की सीमा 2 लाख से बढ़ाकर 3.5 लाख रुपये करने से बना है। इस फैसले से 45 लाख रुपये कीमत तक के घर खरीदने पर 15 साल की लोन अवधि में 7 लाख रुपये की बचत होगी। हालांकि, इस मौके का फायदा मार्च 2020 तक ही उठाया जा सकता है।

प्रॉपर्टी विशेषज्ञों का कहना है कि यह घर खरीदने या निवेश करने का एक बहुत ही बेहतरीन मौका है। ऐसा इसलिए की होम लोन पर ब्याज दर कम हुई है। साथ ही अभी प्रधानमंत्री आवास योजना (पीएमएवाई) के तहत 2.67 लाख रुपये की ब्याज सब्सिडी मिल रही है।

 home finance

होम लेने के शुरुआती सालों में सबसे ज्यादा पैसा ब्याज के तौर पर देना पड़ता है। इसमें मूल धन काफी कम होता है। वहीं, करीब दस साल के बाद ब्याज की रकम कम हो जाती है। अगर कोई व्यक्ति 45 लाख रुपये कीमत का घर खरीदने के लिए बैंक से 40 लाख रुपये का लोन लेता है दस साल तक उसे 3 लाख रुपये सालाना ब्याज के तौर पर देने होते हैं। यानी दस साल तक उसे इससे अच्छी बचत होगी। इसके बाद ब्याज की रकम होने से बचत में कमी आएगी।