समाजवादी सेक्युलर मोर्चे के गठन के बाद पहली बार दिखे शिवपाल और मुलायम सिंह एक मंच पर

नई दिल्ली। समाजवादी पार्टी से अलग होकर सेक्युलर मोर्चा बनाने वाले शिवपाल सिंह यादव के साथ पहली बार शुक्रवार को सपा के संरक्षक मुलायम सिंह यादव नजर आए। लखनऊ में कल अखिलेश यादव के समाजवादी पार्टी के कार्यक्रम में शामिल न होने वाले मुलायम सिंह यादव आज शिवपाल सिंह यादव के समाजवादी सेक्युलर मोर्चा के कार्यक्रम में पहुंचे।

Shivpal Singh Yadav Mulayam Singh
पहली बार शिवपाल और मुलायम सिंह दिखे एक मंच पर

दरअसल, राम मनोहर लोहिया की पुण्यतिथि के मौके पर लखनऊ के लोहिया ट्रस्ट में शिवपाल और मुलायम एक साथ पहुंचे। मुलायम सिंह यादव ने आज समाजवादी सेक्युलर मोर्चे के लोहिया ट्रस्ट के कार्यक्रम में कहा कि लोहिया जी को लेकर दिल्ली, मुम्बई में कार्यक्रम हो रहा है। लोहिया जी का जन्म अम्बेडकर नगर में हुआ था इसलिए उनकी विचारधारा यहां से चल रही है। मुलायम सिंह ने कहा, लोहिया जी गरीब परिवार से थे उनका नाम देश ही नहीं विदेश में उनका नाम है। Shivpal Singh Yadav Mulayam Singhमुलायम सिंह ने कहा कि लोहिया जी ने नारा दिया था अन्याय का विरोध न्याय का साथ दो। कार्यक्रम में मुलायम सिंह यादव ने कहा कि गलत काम का विरोध होना चाहिए। उन्होंने कहा कि अगर भाई भी अपने छोटे भाई के साथ अन्याय करे तो उसका विरोध करो। उन्होंने कहा कि यह लोहिया जी की विचारधारा थी और मैं भी इससे सहमत हूं। उन्होंने कहा कि अन्याय कहीं भी हो, परिवार में हो, गांव में हो, शहर में हो, विरोध करना चाहिये।Mulayam Singh Yadav

इस अवसर पर समाजवादी सेक्युलर मोर्चा के संयोजक शिवपाल सिंह यादव ने कहा कि नेताजी (मुलायम सिंह यादव) का आशीर्वाद हमारे साथ था, है और रहेगा। उन्होंने कहा कि हम तो राजनीति में नेताजी के आदर्श पर चलते हैं। नेताजी हमारे साथ हैं तो हम लोग डॉ. लोहिया के आदर्शों पर चलते हुए क्रांति लाएंगे। हम तो देश व प्रदेश में परिवर्तन लाएंगे।Shivpal Singh Yadav Mulayam Singh

आगे शिवपाल यादव ने कहा, आजादी के लड़ाई में लोहिया जी का भी बड़ा योगदान था। लोहिया जी के विचारों को लेकर नेता जी ने संघर्ष किया है उनके विचारों और सिद्धांतों से ही गरीब किसान का सपना पूरा हो सकता है। लोहिया की सिद्धान्तों को लेकर ही हमने सेकुलर मोर्चा बनाया है। नेता जी का आशीर्वाद हमेशा रहा है और आगे रहेगा। नेता जी निश्चित हमारे साथ है तो लोहिया जी के आदर्शों को लेकर हम आगे बढ़ेंगे। क्रांति लाएंगे और देश-प्रदेश में बदलाव लाने का काम करेंगे।Shivpal Singh Yadav

मुलायम ने कभी किसी मंच पर नहीं कहा कि वो किसके साथ हैं। इसी के बाद से एक बार फिर कयासों का सिलसिला चालू हो गया है कि आखिर मुलायम किसके साथ हैं। शिवपाल सिंह के साथ या फिर अखिलेश यादव के साथ।

पूर्व सांसद वीरपाल सिंह यादव ने सेक्युलर मोर्चा किया ज्‍वाइन

मुलायम सिंह यादव के बेहद करीबी रहे पूर्व सांसद वीरपाल सिंह यादव ने शुक्रवार को लखनऊ में शिवपाल यादव के आवास पर समाजवादी सेक्युलर मोर्चा को ज्वाइन कर लिया। उन्‍होंने बुधवार को प्रेसवार्ता कर समाजवादी पार्टी को अलविदा कहने का एलान किया था। साथ ही समाजवादी पार्टी की प्राथमिक सदस्यता और सभी पदों से इस्तीफा दे दिया था।

पूर्व सांसद वीरपाल सिंह यादव के साथ मलखान यादव, किशन लाल यादव, अशोक यादव, डॉ देवेंद्र सिंह जिला पंचायत सदस्‍य विनोद यादव, आदेश यादव प्रधान, जिला पंचायत सदस्‍य राजकुमार यादव, राजवीर सिंह यादव प्रधान, ठाकुर संतोष सिंह, जमुना प्रसाद मौर्य, अजय यादव, परमवीर प्रधान, प्रेमपाल आजाद, मुनेंद्र यादव, योगेंद्र सिंह, भारत यादव, कंचन यादव आदि 50 लोगों ने समाजवादी सेक्युलर मोर्चा को ज्वाइन किया है।

Facebook Comments