एंटिगा टेस्ट : भारत की वेस्टइंडीज पर 318 रनों की रिकॉर्ड जीत

भारत ने पहली पारी में 297 रन का स्कोर बनाया था और उसने वेस्टइंडीज को पहली पारी में 222 रन पर ऑलआउट कर दिया था। भारत को इस तरह पहली पारी में 75 रन की बढ़त हासिल थी।

Written by: August 26, 2019 8:15 am

एंटिगा। मैन आफ द मैच और उपकप्तान अजिंक्य रहाणे (102) के शतक के बाद तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह (7 रन पर 5 विकेट) की शानदार गेंदबाजी के दम पर भारत ने यहां सर विवियन रिचर्डस स्टेडियम में खेले गए पहले टेस्ट मैच के चौथे दिन रविवार को मेजबान वेस्टइंडीज को 318 रनों से करारी मात देकर दो मैचों की टेस्ट सीरीज में 1-0 की बढ़त बना ली है। भारत ने पहली पारी में 297 रन का स्कोर बनाया था और उसने वेस्टइंडीज को पहली पारी में 222 रन पर ऑलआउट कर दिया था। भारत को इस तरह पहली पारी में 75 रन की बढ़त हासिल थी।

WIvsIND

भारत ने उपकप्तान अजिंक्य रहाणे (102) के शतक और हनुमा विहारी (93) तथा कप्तान विराट कोहली (51) के अर्धशतकों की मदद से अपनी दूसरी पारी में सात विकेट पर 343 रन बनाकर पारी घोषित कर दी और वेस्टइंडीज के सामने जीत के लिए 419 रनों का लक्ष्य रख दिया। भारत के 419 रनों के लक्ष्य के जवाब में वेस्टइंडीज ने लंच तक 15 रन के अंदर ही अपने पांच विकेट गंवा दिए थे। लंच के बाद मेजबान टीम 85 रन और जोड़कर 100 रन पर ढेर हो गई और उसे 318 से करारी हार का सामना करना पड़ा।

भारत की टेस्ट क्रिकेट में यह चौथी सबसे बड़ी जीत है। वहीं, घर के बाहर उसकी यह सबसे बड़ी जीत है। इस जीत के साथ ही विराट कोहली ने बतौर भारतीय कप्तान सबसे ज्यादा टेस्ट मैच जीतने के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी के रिकॉर्ड की बराबरी कर ली है। धोनी और कोहली बतौर कप्तान अब तक 27-27 टेस्ट मैच जीत चुके हैं। धोनी ने जहां 60 मैचों में बतौर कप्तान 27 मैच जीते थे, वहीं कोहली ने 47 मैचों में बतौर कप्तान 27 मैच जीते हैं।

WIvsIND

कोहली ने साथ ही घर के बाहर बतौर कप्तान सबसे ज्यादा टेस्ट मैच जीतने के पूर्व कप्तान सौरव गांगुली के रिकॉर्ड को तोड़ दिया है। घर के बाहर बतौर कप्तान कोहली की यह 12वीं जीत है जबकि गांगुली ने घर के बाहर बतौर कप्तान 11 मैचों में जीत दर्ज की थी। गांगुली ने जहां 28 मैचों में यह उपलब्धि हासिल की थी वहीं कोहली ने 26 मैचों में कारनामा किया है।

वेस्टइंडीज के लिए उसकी दूसरी पारी में केमार रोच ने सबसे ज्यादा 38 और रोस्टन चेज ने 12 रन बनाए। बाकी कोई भी बल्लेबाज दोहरे अंकों में नहीं पहुंच पाए। भारत की ओर से बुमराह के पांच विकेटों के अलावा ईशांत शर्मा ने तीन और मोहम्मद शमी ने दो विकेट लिए।

WIvsIND

इससे पहले, भारत ने अपने कल के स्कोर तीन विकेट पर 185 रन से आगे खेलना शुरू किया। कप्तान विराट कोहली ने 51 और उपकप्तान रहाणे ने अपनी पारी को 53 रन से आगे बढ़ाया। भारत अपने कल के स्कोर में दो रन ही जोड़ पाया था कि कोहली आउट हो गए। चेज ने उन्हें अपना दूसरा शिकार बनाया। कोहली ने अपने कल के स्कोर में एक रन का भी इजाफा नहीं किया।

कोहली के आउट होने के बाद रहाणे और विहारी ने लंच तक भारत को और कोई नुकसान नहीं होने दिया। लंच तक भारत चार विकेट पर 287 रन बना चुका था और उसे 362 रन की बढ़त थी। लंच के बाद रहाणे अपने करियर का 10वां शतक जमाने के बाद आउट हो गए। उन्होंने 242 गेंदों पर पांच चौके लगाए। रहाणे ने पहले तो कोहली के साथ चौथे विकेट के लिए 106 रन और फिर विहारी के साथ पांचवें विकेट के लिए 135 रनों की साझेदारी की।

WIvsIND

रहाणे को उनको बेहतरीन पारी के लिए मैन आफ द मैच का पुरस्कार प्रदान किया गया। रहाणे के आउट होने के बाद ऋषभ पंत (7) और विहारी भी 343 के स्कोर तक आउट हो गए। विहारी के आउट होते ही भारत ने पारी घोषित कर दी। विहारी ने 128 गेंदों पर 10 चौके और एक छक्का लगाया। कोहली ने 113 गेंदों पर दो चौके लगाए। उनके अलावा लोकेश राहुल ने 38, चेतेश्वर पुजारा ने 25, मयंक अग्रवाल ने 16 और रवींद्र जडेजा ने नाबाद एक रन का योगदान दिया। वेस्टइंडीज की ओर से रोस्टन चेज ने चार और केमार रोच, शेनन गेब्रियल तथा कप्तान जेसन होल्डर ने एक-एक विकेट लिए।