विश्व बैडमिंटन चैम्पियनशिप : पहले ही दौर में उलटफेर का शिकार हुए समीर

किदाम्बी श्रीकांत, बी साई प्रणीत और एचएस प्रणॉय जैसे अग्रणी पुरुष एकल खिलाड़ी पहली दौर की बाधा पार करने में सफल रहे लेकिन भारत के दूसरे सर्वोच्च रैंक्ड खिलाड़ी समीर वर्मा को उलटफेर का शिकार होना पड़ा।

Written by: August 20, 2019 11:50 am

बासेल (स्विट्जरलैंड)। टोटल बीडब्ल्यूएफ विश्व बैडमिंटन चैम्पियनशिप के पहले दिन सोमवार को भारत को एक मुकाबले को छोड़कर बाकी सभी मुकाबलों में जीत मिली। किदाम्बी श्रीकांत, बी साई प्रणीत और एचएस प्रणॉय जैसे अग्रणी पुरुष एकल खिलाड़ी पहली दौर की बाधा पार करने में सफल रहे लेकिन भारत के दूसरे सर्वोच्च रैंक्ड खिलाड़ी समीर वर्मा को उलटफेर का शिकार होना पड़ा। समीर को सिंगापुर के कीन येउ लोह ने हराया। वर्ल्ड नम्बर-14 और टूनार्मेंट के 10वें सीड खिलाड़ी समीर तथा वर्ल्ड नम्बर-34 लोह के बीच यह अब तक तीसरा मुकाबला था। इससे पहले दोनों मौकों पर समीर ने लोह को हराया था लेकिन एक महत्वपूर्ण टूनार्मेंट का आगाज करते हुए ही वह लोह के हाथों 21-15, 15-21, 10-21 से हार गए। दोनों के बीच 61 मिनट तक मुकाबला हुआ।

Badminton Sameer Verma

इससे पहले, टूनार्मेंट में सातवीं सीड श्रीकांत ने पहले दौर में विश्व रैंकिंग में 81वें नंबर के खिलाड़ी आयरलैंड के एनहत एनगुयेन को तीन गेमों तक चले संघर्षपूर्ण मुकाबले में 17-21, 21-16, 21-6 से मात दी। श्रीकांत ने यह मुकाबला एक घंटे छह मिनट में जीता। इस जीत के साथ ही श्रीकांत ने एनगुयेन के अपना करियर रिकॉर्ड 2-0 का कर लिया है। इस बीच, 16वें सीड खिलाड़ी प्रणीत ने पहले दौर के मुकाबले में कनाडा के जेसन एंथोनी सुई को हराया। प्रणीत ने एंथोनी को 39 मिनट तक चले मुकाबले में 21-17, 21-16 से मात दी। इन दोनों के बीच यह अब तक का पहला मुकाबला था।

kidambi srikhant

अगले दौर में प्रणीत का सामना दक्षिण कोरिया के डोंग क्यून ली से होगाए जो वर्ल्ड नम्बर-39 हैं। इन दोनों के बीच अब तक चार मुकाबले हुए हैं और दोनों ने दो-दो मुकाबले जीते हैं। प्रणीत ने इस साल आस्ट्रेलियन ओपन में क्यून को हराया था। वहीं, प्रणॉय ने तीन गेमों तक चले मुकाबले में फिनलैंड के इतु हीयनो को मात दी। प्रणॉय ने हीयनो को 17-21, 21-10, 21-11 से पराजित किया। भारतीय खिलाड़ी ने 59 मिनट में यह मुकाबला जीता।

वर्ल्ड नंबर-30 प्रणॉय का वर्ल्ड नंबर-93 हीयनो के खिलाफ करियर का यह पहला मुकाबला था। अगले दौर में प्रणॉय के सामने चीन के लिन डेन की चुनौती होगी, जिनके खिलाफ प्रणॉय का 2-2 का करियर रिकॉर्ड है। इससे पहले, भारत की मेघना जक्कामापुडी और एस. राम पूर्विशा की जोड़ी ने महिला युगल वर्ग के पहले दौर में जीत हासिल कर ली है। भारतीय जोड़ी ने ग्वाटेमाला की कोरलेटो सोटो डियाना और सोटोमायोर निकते एलेक्जेंडरे की जोड़ी को मात दी। भारतीय महिलाओं ने यह मुकाबला 28 मिनट में 21-10, 21-18 से अपने नाम किया।

hs prannoy

दूसरे दौर में यह जोड़ी जापान की शिहो टानाका और कोहारू योनेमोटो की जोड़ी से भिड़ेगी। जापानी जोड़ी को पहले दौर में बाई मिला है। यह मुकाबला बुधवार को होगा लेकिन उससे पहले मंगलवार को कई अन्य भारतीय जोड़ियों को कोर्ट पर उतरना है। अरुण जार्ज और संयम शुक्ला की पुरुष युगल जोड़ी पहले दौर में जापान के ताकुतो इनोउ और युकी कानेको से भिड़ेगी जबकि पूजा डांडू और संजना संतोष की महिला युगल जोड़ी का सामना चीनी ताइपे की या चिंग सू और लिंग फांग हू से होगा।

इसके अलावा भारत की शीर्ष महिला युगल जोड़ीदार अश्विनी पोनप्पा और एन. सिक्की रेड्डी अपने पहले मैच में चीनी ताइपे की चिंग हुई चांग और चिंत तुन यांग से भिड़ेंगी। एमआर अर्जुन और रामचंद्रन श्लोक तथा मनु अत्री और बीए सुमित रेड्डी की अग्रणी पुरुष युगल जोड़ी भी मंगलवार को ही अपना पहला मुकाबला खेलेगी। मनु और सुमित को फ्रांस के थाम गीक्वेल और रोनान लाबार की जोड़ी से मुकाबला करना है। इसी तरह अर्जुन और श्लोक मेजबान देश के तोबाएस कुएंजी और ओलीवर स्कालर से भिड़ेगें।