पूर्व क्रिकेटर मनोज प्रभाकर और पत्नी पर धोखाधड़ी का केस दर्ज

इन दोनों के खिलाफ यह एफआईआर प्रभाकर की पूर्व पत्नी लंदन में रहने वाली संध्या प्रभाकर ने दर्ज कराई है। मालवीय नगर थान में दर्ज कराई गई इस एफआईआर में संध्या ने प्रभाकर पर आरोप लगाए हैं कि उन्होंने कुछ राजनेताओं की सहायता से दक्षिण दिल्ली स्थित उनके फ्लैट को बेच दिया।

Written by: October 18, 2019 8:20 am

नई दिल्ली। भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व हरफनमौला खिलाड़ी मनोज प्रभाकर और उनकी पत्नी फरहीन के खिलाफ दिल्ली पुलिस ने गुरुवार को आपराधिक मामले में एफआईआर दर्ज की है। इन दोनों के खिलाफ यह एफआईआर प्रभाकर की पूर्व पत्नी लंदन में रहने वाली संध्या प्रभाकर ने दर्ज कराई है। मालवीय नगर थान में दर्ज कराई गई इस एफआईआर में संध्या ने प्रभाकर पर आरोप लगाए हैं कि उन्होंने कुछ राजनेताओं की सहायता से दक्षिण दिल्ली स्थित उनके फ्लैट को बेच दिया। संध्या ने जब पती-पत्नी से इस मामले में संपर्क करना चाहा तो इस जोड़ी ने संध्या को इसके भयंकर परिणाम भुगतने की बात कही।

manoj prabhakar

संध्या, पूर्व क्रिकेट खिलाड़ी की पहली पत्नी हैं। उन्होंने आरोप लगाया है कि फरहीन ने उनसे फ्लैट लौटाने के लिए 1.50 करोड़ रुपये की मांग की थी। संध्या ने भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) की धारा 420/468/471/120-बी-34 के तहत प्रभाकर पर फरहीन और कुछ अन्य लोगों के साथ मिलकर उनकी संपत्ति हड़पने के आरोप लगाए हैं। पुलिस सूत्रों ने बताया कि पहले यह पारिवारिक मुद्दा लग रहा था लेकिन जांच के बाद खुली परतों से पता चला कि फरहीन की उस संपत्ति पर नजरें हैं।

manoj prabhakar

पेशे से अभिनेत्री रह चुकी फरहीन ने अपने फिल्मी करियर की शुरुआत तमिल और कन्नड़ फिल्मों से की थी। बाद में वह मुंबई आ गईं। कुछ हिंदी फिल्मों में काम करने के बाद उन्होंने बॉलीवुड का दामन छोड़ दिया और प्रभाकर से शादी कर ली जिसके बाद उनके संध्या से रिश्ते खटिया गए। एफआईआर 17 अक्टूबर को दर्ज कराई गई, लेकिन असल प्रकरण एक अक्टूबर का है जब संध्या की प्रभाकर और फरहीन के खिलाफ एफआईआर दिल्ली के सीनियर पुलिस अधिकारी के आदेश पर पुलिस द्वारा दर्ज की गई।

manoj prabhakar

अपनी एफआईआर में संध्या ने कहा है कि सर्वप्रिया विहार में 7/18 बिल्डिंग में दूसरी मंजिला फ्लैट उनके दूसरे पति दिवगंत लक्ष्मी चंद पंडित ने खरीदा था। 1995 में खरीदे गए इस फ्लैट के सभी कागजात लक्ष्मी चंद पंडित के नाम पर हैं। संध्या इस फ्लैट में 2006 तक रहीं। इसके बाद इसमें उनके भाई ने निवास किया। भाई के बाद उनका एक दोस्त अगस्त 2018 तक इस फ्लैट में रहा। इसके बाद उनका परिवार इस फ्लैट को कभी-कभार उपयोग में लेता था।

संध्या ने आरोप लगाया है कि जुलाई 2019 में उन्हें अपने भाई से पता चला कि मनोज प्रभाकर के गुंडों ने फ्लैट का ताला तोड़ा और उसे हथिया लिया। दिलचस्प बात यह है कि मनोज और उनकी पत्नी फरहीन अपने दो बेटों के साथ इसी बिल्डिंग में पहली मंजिल पर रहते हैं। पुलिस ने कहा कि इस मामले में जांच शुरू हो चुकी है और प्रभाकर तथा उनकी पत्नी के बयान रिकार्ड किए जाएंगे। आईएएनएस ने प्रभाकर से उनका पक्ष जानने की कोशिश की लेकिन शुक्रवार शाम तक उनसे संपर्क नहीं किया जा सका।