भारत-आस्ट्रेलिया का मैच देखने पहुंचे माल्या को भीड़ ने घेरा, लगाए चोर-चोर के नारे

वहीं मैच खत्म होने के बाद जब माल्या स्टेडियम से बाहर निकल रहे थे तो लोगों ने उन्हें देखकर ‘चोर है…चोर है’ चिल्लाना शुरु कर दिया। इसके बाद उन्होंने सिर्फ इतना कहा कि मैं सुनिश्चित कर रहा हूं कि मेरी मां को कोई चोट न पहुंचे। दरअसल इस दौरान उनके साथ उनकी मां ललिता भी थीं, जब भीड़ ने उन्हें घेर कर ‘चोर है…चोर है’ के नारे लगाए।

Avatar Written by: June 10, 2019 9:17 am

लंदन। ब्रिटेन में प्रत्यर्पण की प्रक्रिया से गुजर रहे कारोबारी विजय माल्या यहां रविवार को लंदन केनिंगटन ओवल क्रिकेट स्टेडियम में देखे गए। वह भारत-आस्ट्रेलिया के बीच मैच देखने पहुंचे। टिकट के साथ स्टेडियम में प्रवेश करते समय माल्या ने एक वीडियो में एएनआई से कहा, “मैं यहां मैच देखने आया हूं।”

Vijay Mallya

माल्या के बेटे सिद्धार्थ ने इंस्टाग्राम पर एक फोटो पोस्ट की है, जिसमें वह स्टेडियम में अपने पिता के साथ नजर आ रहे हैं। वहीं मैच खत्म होने के बाद जब माल्या स्टेडियम से बाहर निकल रहे थे तो लोगों ने उन्हें देखकर ‘चोर है…चोर है’ चिल्लाना शुरु कर दिया। इसके बाद उन्होंने सिर्फ इतना कहा कि मैं सुनिश्चित कर रहा हूं कि मेरी मां को कोई चोट न पहुंचे। दरअसल इस दौरान उनके साथ उनकी मां ललिता भी थीं, जब भीड़ ने उन्हें घेर कर ‘चोर है…चोर है’ के नारे लगाए।

इसका एक वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। विजय माल्या ने कहा, ‘मैं सिर्फ मैच देखने आया हूं। मैं सिर्फ यह सुनिश्चित करना चाहता हूं कि मां को किसी तरह का नुकसान न पहुंचे।’ वहीं प्रत्यर्पण के सवाल पर माल्‍या ने कहा, ‘कोर्ट में अगली सुनवाई की तैयारी चल रही है, जो जुलाई में होगी।’

माल्या (63) नौ हजार करोड़ रुपये ऋण नहीं चुका पाने के कारण दो मार्च, 2016 को भारत छोड़कर चले गए थे। माल्या ने हालांकि लगातार कहा है कि वह भगोड़ा नहीं हैं और भारतीय बैंकों का बकाया चुकाने के लिए तैयार हैं। भारत ने 2017 में माल्या के प्रत्यर्पण के लिए मामला दाखिल किया था, जिसका उन्होंने विरोध किया। फिलहाल वह जमानत पर बाहर हैं।

Vijay Mallya

एसबीआई के नेतृत्व में 13 बैंकों के समूह ने मुंबई की विशेष अदालत में ऋण बकाया की वसूली के लिए प्रक्रिया शुरू की है। प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने भी पिछले साल धनशोधन अधिनियम के तहत माल्या को आर्थिक भगोड़ा घोषित करने के लिए अदालत में मामला दाखिल किया। ईडी ने नए कानून के तहत माल्या की करीब 12 हजार करोड़ रुपये की संपत्ति जब्त की है।