बिना दर्शकों के पुरानी भावनाएं महसूस कर पाना काफी मुश्किल होगा : कोहली

उन्होंने कहा, “चीजें फिर भी चलेंगी, लेकिन मुझे शक है कि क्या खिलाड़ी अपने अंदर वो जादू महसूस कर पाएंगे क्योंकि वो माहौल नहीं होगा। हम खेल को उसी तरह से खेलेंगे जिस तरह से इसे खेला जाना चाहिए। लेकिन वो जादुई पलों का आना मुश्किल होगा।”

Written by: May 8, 2020 3:15 pm

नई दिल्ली। भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली ने कहा है कि बिना दर्शकों के खाली स्टेडियम में खेलना एक विकल्प हो सकता है, लेकिन उनको साथ ही इस बात पर संदेह है कि खाली स्टेडियम में मैच खेलने से पुराना जादू रह पाएगा या नहीं। कोहली ने स्टार स्पोटर्स के शो क्रिकेट कनेक्टेड पर कहा, “यह संभावित स्थिति है। यह हो सकता है। मुझे नहीं पता कि की कौन इसे कैसे लेगा क्योंकि हम सभी जुनूनी दर्शकों के सामने खेलने के आदि हैं।”

Virat kohli

भारतीय टीम के कप्तान के मुताबिक दर्शकों के बिना भी खिलाड़ी अपनी पूरी ऊर्जा से खेलेंगे और अपना सर्वश्रेष्ठ देंगे। उन्होंने कहा, “मुझे पता है कि यह पूरी ऊर्जा के साथ खेला जाएगा। लेकिन दर्शकों के खिलाड़ियों से जुड़ने वाली भावना, स्टेडियम में जाते हुए चिता होना, इन भावनाओं को दोबारा पैदा करना मुश्किल होगा।”

Virat Kohli

उन्होंने कहा, “चीजें फिर भी चलेंगी, लेकिन मुझे शक है कि क्या खिलाड़ी अपने अंदर वो जादू महसूस कर पाएंगे क्योंकि वो माहौल नहीं होगा। हम खेल को उसी तरह से खेलेंगे जिस तरह से इसे खेला जाना चाहिए। लेकिन वो जादुई पलों का आना मुश्किल होगा।”

कोरोनावायरस के कारण सभी तरह की खेल गतिविधियां रुकी हुई हैं। बीसीसीआई ने पहले ही कह दिया है कि निकट भविष्य में भारत में किसी तरह की क्रिकेट मुश्किल है।

Virat Kohali

इसी महामारी के कारण इसी साल अक्टूबर-नवंबर में होने वाले टी-20 विश्व कप को लेकर भी सवाल खड़े हो रहे हैं।