भारत को अंडर-19 विश्व कप में विजेता बनाने वाला खिलाड़ी पृथ्वी साव डोपिंग में फंसे, 8 महीने के लिए सस्पेंड

वह 15 नवंबर, 2019 तक क्रिकेट से दूर रहेंगे। बीसीसीआई के अनुसार, फरवरी 2019 में पृथ्वी साव का यूरिन टेस्ट सैयद मुश्ताक अली ट्रोफी के दौरान एंटी डोपिंग प्रोग्राम के तहत लिया गया था। टेस्ट में Terbutaline पाया गया, जो प्रतिबंधित है।

Avatar Written by: July 30, 2019 8:19 pm

नई दिल्ली। साल 2018 में अंडर-19 क्रिकेट विश्व कप में अपनी कप्तानी और बल्लेबाजी से सबको प्रभावित करने वाले खिलाड़ी पृथ्वी साव डोपिंग के मामले में दोषी पाए गए हैं और बीसीसीआई ने जानकारी देते हुए बताया कि उन्हें 8 महीने के लिए सस्पेंड कर दिया गया है।

वह 15 नवंबर, 2019 तक क्रिकेट से दूर रहेंगे। बीसीसीआई के अनुसार, फरवरी 2019 में पृथ्वी साव का यूरिन टेस्ट सैयद मुश्ताक अली ट्रोफी के दौरान एंटी डोपिंग प्रोग्राम के तहत लिया गया था। टेस्ट में Terbutaline पाया गया, जो प्रतिबंधित है।

Prithvi Shaw

इस बारे में बीसीसीआई ने कहा कि पृथ्वी साव ने अनजाने में प्रतिबंधित पदार्थ का सेवन किया था और हमने उनके स्पष्टीकरण को स्वीकार कर लिया है। वह 15 नवंबर, 2019 तक सभी तरह के क्रिकेट सस्पेंड रहेंगे। बता दें कि पृथ्वी चोट की वजह से काफी समय से इंटरनेशनल क्रिकेट से दूर थे। वेस्ट इंडीज दौरे के लिए भी उनका सिलेक्शन नहीं किया गया है।

पृथ्वी ने आखिरी इंटरनेशनल टेस्ट मैच 23 अक्टूबर, 2018 को वेस्ट इंडीज के खिलाफ हैदराबाद में खेला था। उन्होंने अब तक भारत के लिए दो टेस्ट खेले हैं। उनके नाम एक शतक और एक अर्धशतक दर्ज है।