रांची टेस्ट : रोहित, रहाणे की पारियों ने भारत को संभाला

रोहित ने अब तक 164 गेंदों का सामना किया है, जिसमें उन्होंने 14 चौके और चार छक्के लगाए हैं। इसके साथ ही रोहित कसी एक टेस्ट सीरीज में सबसे अधिक छक्के लगाने वाले बल्लेबाज बन गए हैं।

Avatar Written by: October 19, 2019 5:36 pm

नई दिल्ली।  सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा (नाबाद 117) ने दमदार शतक लगाते हुए शनिवार को यहां झारखंड राज्य क्रिकेट संघ (जेएससीए) स्टेडियम में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ जारी तीन मैचों की टेस्ट सीरीज के आखिरी मैच के पहले दिन शनिवार को खराब शुरूआत के बाद भारतीय पारी को संभाल लिया। भारत ने दिन का खेल समाप्त होने तक अपनी पहली पारी में तीन विकेट के नुकसान पर 224 रन बना लिए हैं। अजिंक्य रहाणे ने भी रोहित का अच्छा साथ दिया और वह 83 रन बनाकर क्रीज पर टिके हुए हैं। दोनों बल्लेबाजों के बीच चौथे विकेट के लिए अबतक 185 रनों की साझेदारी हो चुकी है।


रोहित ने अब तक 164 गेंदों का सामना किया है, जिसमें उन्होंने 14 चौके और चार छक्के लगाए हैं। इसके साथ ही रोहित कसी एक टेस्ट सीरीज में सबसे अधिक छक्के लगाने वाले बल्लेबाज बन गए हैं। रहाणे ने 135 गेंदों पर अब तक 11 चौके और एक छक्का लगाया है।


रोहित इस सीरीज में अब तक कुल 17 छक्के लगा चुके हैं। वह बांग्लादेश के साथ 2018 में हुई दो मैचों की सीरीज में वेस्टइंडीज के शिमरोन हिटमायेर के 15 छक्कों के रिकार्ड को पीछे छोड़ चुके हैं। रोहित के करियर का यह छठा और इस सीरीज में तीसरा शतक है। उन्होंने विशाखापट्टनम में पहले टेस्ट मैच में कुल 13 छक्के लगाए थे और पाकिस्तान के वसीम अकरम के 12 छक्कों के रिकार्ड को ध्वस्त किया था।

अब रोहित क्रिकेट के तीनों प्रारूपों में भारत के लिए सबसे अधिक छक्के लगाने का रिकार्ड अपने नाम कर चुके हैं। साथ ही रोहित एक सीरीज में तीन शतक लगाने वाले दूसरे भारतीय ओपनर बन गए हैं। रोहित के अलावा सुनील गावस्कर ने तीन मौकों पर एक सीरीज में तीन या उससे अधिक शतक लगाए थे।


मेजबान टीम ने दूसरे सत्र में एक भी विकेट नहीं गंवाया और रोहित ने अपने टेस्ट करियर का छठा शतक भी पूरा किया। मौजूदा सीरीज में रोहित का यह तीसरा शतक है। वह एक टेस्ट सीरीज में तीन या उससे ज्यादा शतक लगाने वाले दूसरे भारतीय सलामी बल्लेबाज बन गए हैं। इससे पहले सुनील गावस्कर ने तीन मौकों पर यह कारनामा किया था।

इसी के साथ रोहित ने अपने टेस्ट करियर में 2000 रन भी पूरे कर लिए हैं। इस सीरीज से पहले रोहित के नाम सिर्फ तीन शतक थे लेकिन उनके नाम अब 30 टेस्ट मैचों में छह शतक हो गए हैं। उनके नाम 10 अर्धशतक भी हैं।

इससे पहले, भारत के कप्तान विराट कोहली ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया जो गलत साबित हुआ। मेजाबान टीम की शुरूआत खराब रही और 12 के कुल योग पर सलामी बल्लेबाज मयंक अग्रवाल (10) के रूप में उसे पहला झटका लगा।

तेज गेंदबाज कागिसो रबादा ने अग्रवाल को आउट करने के बाद 16 के स्कोर पर भारत को दूसरा झटका दिया। चेतेश्वर पुजारा अपना खाता भी नहीं खोल पाए और रबादा का शिकार बने। चौथे नंबर पर बल्लेबाजी करने आए कोहली भी ज्यादा देर क्रीज पर टिक नहीं पाए। उन्हें 12 के निजी स्कोर पर एनरिक नोर्टजे ने पवेलियन की राह दिखाई।

Support Newsroompost
Support Newsroompost