अखिलेश यादव

लखनऊ। प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (लोहिया) के प्रमुख और समाजवादी पार्टी से नाता तोड़ चुके शिवपाल यादव ने फिर से सपा...

जिस मंदिर में अखिलेश यादव पूजा करने गए थे उसके बारे में आमधारणा है की इसकी स्थापना धर्मराज युधिष्ठिर ने की थी और पाण्डवों ने इस मंदिर की परिक्रमा की थी।

अखिलेश यादव ने जहरीली शराब से हुई मौतों को लेकर प्रदेश सरकार पर साधा निशाना

सपा मुखिया ने कहा, भाजपा राज में अपराधों में बढ़ोत्तरी होने से सरकार पर प्रश्नचिन्ह खड़ा हो गया है। ऐसा लगता है कि प्रशासन ने अपनी इच्छाशक्ति खो दी है, वह पूर्णतया पंगु हो गई है।

अखिलेश आज यहां ऐशबाग स्थित ईदगाह पर लोगों को मुबारकबाद देने पहुंचे थे। उन्होंने कहा, "जब आप कुछ नया करते हैं तो भले ही सफलता न मिले, लेकिन काफी कुछ सीखने को मिलता है। यह जरूरी नहीं कि हर प्रयोग सफल हो।"

मायावती के सपा और अखिलेश यादव को लेकर दिए गए बयान के बाद अब सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव बुआ शब्द से भी चिढ़ने लगे हैं। जब पत्रकारों ने 'बुआ' शब्द का इस्तेमाल किया तो अखिलेश ने नाराजगी जताते हुए कहा कि पत्रकार होने के नाते आप लोगों को ऐसे शब्दों का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए।

मायावती ने प्रेस कांफ्रेंस में कहा कि, चुनाव नतीजों से साफ है कि बेस वोट भी सपा के साथ खड़ा नहीं रह सका है। सपा की यादव बाहुल्य सीटों पर भी सपा उम्मीदवार चुनाव हार गए हैं।

मायावती के तेवर देखकर लग रहा है कि उनका गठबंधन से मन भर गया है ऐसे में अखिलेश यादव ने भी जो संकेत दिए उससे भी लग रहा है कि उनका भी गठबंधन से मोहभंग हो चुका है।

सपा प्रमुख ने पूर्वांचल एक्सप्रेस वे पर भी तंज कसा और कहा, "सरकार कह रही है कि अगस्त 2020 तक इसका निर्माण करा देंगे। आज हम उसी सड़क से होकर आए, लेकिन कहीं भी काम होते नहीं दिखा।

इस चुनाव में डिंपल और अक्षय की सीट हारकर सपा को शिवपाल यादव की कमी जरूर खली होगी। माना जाता है कि कन्नौज सीट के स्थानीय सपा नेता और कार्यकर्ता शिवपाल यादव के ज्यादा करीबी हैं