अमेरिका

इरेकाट ने शनिवार को एक ट्वीट में कहा, "कांग्रेस का प्रस्ताव 326 अवैध बस्तियों और कब्जों को वैध बनाने के ट्रंप प्रशासन के प्रयासों को झटका देता है। यह आत्मनिर्णय के हमारे अधिकार का समर्थन करता है।"

जेएनयू के छात्र मनीष जांगिड़ अमेरिका में शोध पत्र प्रस्तुत करेंगे। मनीष जांगिड़ पर्यावरण विज्ञान संस्थान, जेएनयू के शोध छात्र ने 'एटमॉस्फेरिक ब्राउन क्लाउड' विषय पर एक शोध पत्र लिखा।

एफबीआई के विशेष एजेंट जॉर्ज पीरो ने एक संवाददाता सम्मेलन में कहा कि पीड़ितों में दो लुटेरे, अपहृत यूपीएस चालक और वहां मौजूद एक शख्स शामिल हैं, जो घटनास्थल पर एक कार के अंदर था।

सितंबर में दोनों पक्ष शांति समझौते पर हस्ताक्षर करने के बहुत करीब थे, लेकिन अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने तालिबान द्वारा अमेरिकी सैनिकों को निशाना बना कर किए जा रहे लगातार हमलों की वजह से आखिरी पल में समझौता करने से मना कर दिया था।

रूहानी ने कहा कि वाशिंगटन द्वारा गत वर्ष परमाणु समझौते से बाहर निकलने के बाद दोबारा लगाए गए प्रतिबंधों को हटाने के तुरंत बाद ईरान पी फाइव प्लस वन देशों (अमेरिका, ब्रिटेन, फ्रांस, ब्रिटेन, जर्मनी, रूस और चीन के) के फ्रेमवर्क के अंतर्गत वार्ता करने के लिए तैयार है।

अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति जिमी कार्टर बुधवार दोपहर को अस्पताल से डिस्चार्ज हो गए। उनका यूरिनरी ट्रैक्ट संक्रमण (यूटीआई) का इलाज चल रहा था। कार्टर सेंटर के अनुसार, "कार्टर जॉर्जिया के प्लैन्स स्थित अपने आवास पर स्वास्थ्य लाभ लेंगे।"

अमेरिका और सूडान 23 साल के बाद अब राजदूतों के आदान-प्रदान की प्रक्रिया शुरू करेंगे। अमेरिका के विदेश विभाग ने यह जानकारी दी। समाचार एजेंसी सिन्हुआ के अनुसार, सूडान के प्रधानमंत्री अब्दल्ला हमदोक के पहले वाशिंगटन दौरे पर बुधवार को यह घोषणा की गई।

आर्थिक तंगी से जूझ रहे पाकिस्तान को अमेरिका के बाद अब ऑस्ट्रेलिया ने बड़ा झटका दिया है। ऑस्ट्रेलिया की मॉरिसन सरकार ने पाकिस्तान को दी जाने वाली आर्थिक मदद रोकने का फैसला किया है।

अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति जिमी कार्टर को मूत्राशय में संक्रमण (यूटीआई) के कारण अस्पताल में भर्ती कराया गया है। समाचार एजेंसी सिन्हुआ के अनुसार, सोमवार को एक प्रवक्ता ने एक बयान कहा कि अमेरिका के सबसे ज्यादा समय तक जीने वाले राष्ट्रपति कार्टर (95) को इस सप्ताहांत के बाद यूटीआई के इलाज के लिए जॉर्जिया के अमेरिकस स्थित फॉएबे समटर मेडिकल सेंटर में भर्ती कराया गया है।

ईरान ने जोर देकर कहा है कि अमेरिका खाड़ी क्षेत्र में अंतर्राष्ट्रीय गठबंधन बनाने में नाकाम रहा है और इसलिए सिर्फ क्षेत्रीय एकजुटता ही इस क्षेत्र में स्थायी सुरक्षा की गारंटी दे सकती है।