अमेरिका कोरोना

जॉन्स हॉपकिन्स यूनिवर्सिटी के सेंटर फॉर सिस्टम साइंस एंड इंजीनियरिंग (सीएसएसई) ने नवीनतम आंकड़े जारी कर कहा, "दुनियाभर में मंगलवार सुबह तक कुल 54 लाख 94 हजार 287 लोग कोविड-19 संक्रमण से संक्रमित हुए, जिनमें से मरने वालों की संख्या 3 लाख 46 हजार 229 रही।"

कोरोना के प्रसार को रोकने के लिए ट्रम्प ने कहा कि हम ब्राजील से लोगों के अमेरिका आने पर बैन लगाने की योजना बना रहे हैं। मैं

ट्रंप ने संवाददाता सम्मेलन में अपने फरवरी में भारत दौरे को याद किया। इससे पहले उन्होंने कहा कि अमेरिका अगर वैक्सीन या थेरेपी का विकास करता है तो वह भारत और अन्य देशों के लिए सुलभ होगा।

आपको बता दें कि अमेरिका में कोरोना से बुरा हाल है, कोरोना संक्रमण का मामला अब अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के दफ्तर व्हाइट हाउस तक पहुंच गया है।

संयुक्त राज्य अमेरिका में अब तक इस महामारी ने 70,000 से अधिक लोगों की जानें ले चुकी है, जो दुनिया भर से दर्ज वायरस से हुए लोगों की मौतों का एक चौथाई से अधिक है। ऐसे में यहां की जनता महामारी से भलीभांति निपट न पाने के चलते फेडरल सरकार से नाराज हैं।

ट्रंप चीन पर लगातार आरोप लगाते रहे हैं कि वह कोरोनावायरस संकट को ठीक ढंग से नहीं संभाल पा रहा। इस बीच ट्रंप प्रशासन पर चीन के खिलाफ कार्रवाई करने का दबाव बढ़ रहा है।

अमेरिका में महामारी को रोकने में दिखायी गयी कमजोरी से अमेरिका नए कोरोना निमोनिया महामारी का महत्वपूर्ण निर्यातक बन गया। ऑस्ट्रेलिया के प्रधानमंत्री ने भी कहा कि उन के देश में महामारी से लगे मामलों में 80 प्रतिशत विदेशों से आये हैं और उनमें अधिकांश अमेरिका से आये हैं।

आंकड़ों के मुताबिक दुनिया में अमेरिका अब कोरोना वायरस के संक्रमण से सबसे अधिक प्रभावित है जहां कोविड-19 से मृतकों की संख्या 55,118 हो गई है और कुल संक्रमितों की संख्या 9,72,969 है।

स्पेन में 2,23,759 लोग संक्रमित हुए हैं जिनमें से 22,902 लोगों की मौत हुई। फ्रांस में कोरोना वायरस के संक्रमण से 22,279 लोगों ने जान गंवाई है एवं कुल 1,59,952 मामलों की पुष्टि हुई है।

आंकड़ों की माने तो कोरोनावायरस से 180 से अधिक देश और क्षेत्र प्रभावित हुए हैं, जबकि महामारी से वर्तमान में 3,17,800 से अधिक लोग उपचार के बाद पूर्ण रूप से स्वस्थ हो चुके हैं।