अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप

US President : अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (US President Donald Trump) को भेजे गए एक संदिग्ध पैकेज में जहर मिलने में पुष्टि हुई है। कानून प्रवर्तन अधिकारियों ने इस सप्ताह के शुरुआत में एक पैकेट की छानबीन की जिसमें रिसिन (Ricin) नाम के जहर की पुष्टि हुई है।

US ban on TikTok, WeChat : वीचैट (WeChat) और टिकटॉक एप (TikTok) प्रतिबंध लगाने के ट्रंप सरकार के आदेश पर चीन पूरी तरह से बौखलाया गया है। इतना ही नहीं तिलमिलाए ड्रैगन ने अब अमेरिका को धमकी तक दे डाली है।

वैश्विक महामारी कोरोनावायरस (Coronavirus Pandemic) का कहर दुनियाभर में लगातार बढ़ता ही जा रहा है। कोरोना महामारी से निपटने के लिए विश्वभर में वैक्सीन बनाने का काम चल रहा है।

विश्वभर में कोरोनावायरस महामारी (Coronavirus) का प्रकोप लगातार तेजी से बढ़ता जा रहा है। भारत, अमेरिका के बाद दुनिया में सबसे ज्यादा कोरोना टेस्ट कर रहा है।

अमेरिका और चीन (US and China) के बीच तकरार लगातार बढ़ता ही जा रहा है। इस कड़ी में अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) ने चीन की टिकटॉक (TikTok) के लिए उसके अमेरिकी परिचालन को बंद करने या उसे किसी अमेरिकी कंपनी को बेचने की अंतिम तिथि 15 सितंबर से आगे बढ़ाने से साफ इनकार कर दिया है।

एक तरफ जहां अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (US President Donald Trump) ने कोरोनावायरस (Coronavirus) को लेकर चीन (China) को खरी खोटी सुनाई है। वहीं दूसरी ओर उन्होंने भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) की तरीफ में जमकर कसीदे पढ़े।

व्हाइट हाउस (White House) में रिपब्लिकन नेशनल कन्वेंशन (Republican National Convention) के दौरान अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) ने कानूनी आव्रजन के प्रति अपना समर्थन दिखाने के लिए बड़े ही नाटकीय अंदाज में एक भारतीय सॉफ्टवेयर डेवलपर महिला का 'नागरिकों के महान अमेरिकी परिवार' में स्वागत किया।

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (US President Donald Trump) की सुरक्षा में चूक का मामला सामने आया है। दरअसल ट्रंप का विमान उस वक्त डैंजर जोन में आ गया जब एयरफोर्स वन (Airforce One) के बेहद नजदीक एक ड्रोन आ गया।

इससे पहले कोरोनावायरस (Coronavirus) के कारण अमेरिका (America) ने चीन (China) के लिए नई ट्रैवल एडवाइजरी की थी। इस दौरान यहां यात्रा की सलाह नहीं दी जा रही थी।

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप चाइनीज ऐप TikTok को लेकर और सख्त हो गए हैं। उन्होंने इस वीडियो शेयरिंग ऐप को लेकर बड़ी धमकी दी है। उन्होंने कहा कि अगर 15 सितंबर तक चीनी कंपनी को किसी अमेरिकी कंपनी ने नहीं खरीदा तो अमेरिकी मार्केट से ये ऐप बाहर कर दी जाएगी और इसका 'धंधा' बंद कर दिया जाएगा।