अमेरिकी सैनिक

अमेरिका के डिफेंस डिपार्टमेंट ने कोविड-19 संक्रमण के बढ़ते प्रकोप के चलते देश के सैनिकों की आवाजाही पर रोक के आदेश को 30 जून तक बढ़ा दिया है।

रक्षा मंत्रालय ने बताया कि हमला बल्ख जिले के दाव्लत अबद के खिली गुली इलाके में अफगान नेशनल आर्मी और राष्ट्रीय सुरक्षा निदेशालय के संयुक्त सैन्य बेस पर किया गया।

1999 में नाटो में शामिल हुए पोलैंड में वर्तमान में लगभग 4,500 अमेरिकी सैनिक तैनात हैं। यह पोलिश मिट्टी पर एक स्थायी अमेरिकी सैन्य अड्डे की पैरवी कर रहा है, यहां तक कि लागतों में दो अरब डॉलर का भुगतान करने की पेशकश कर रहा है।

अमेरिका और दक्षिण कोरिया, सियोल में करीब 30,000 सैनिकों को रखने के एक प्रारंभिक समझौते पर पहुंच गए हैं। विदेश मंत्रालय के अधिकारियों ने यह कहा। इसी के साथ राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप द्वारा सियोल से अमेरिकी सैनिकों को वापस बुलाने की आंशकाओं पर विराम लग गया है।

केनबरा। आस्ट्रेलिया की विदेश मंत्री मरिस पेन ने सोमवार को कहा कि अफगानिस्तान से अमेरिकी सैनिकों की वापसी की योजना...

वाशिंगटन। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने एक समझौता ज्ञापन को मंजूरी दी है, जिसके तहत दक्षिण पश्चिमी सीमा पर तैनात...