अयोध्या

कहा गया है कि यह आतंकी हमला भीड़-भाड़ वाली जगह पर हो सकता है। ह्युमन इंटेलिजेंस और इलेक्ट्रॉनिक इंटरसेप्ट्स के आधार पर यह संदेह जताया जा रहा है कि आतंकवादियों का एक छोटा समूह देश में घुसपैठ कर सकता है।

केंद्रीय खुफिया एजेंसियों ने राज्य पुलिस को अगले सप्ताह अयोध्या में राम मंदिर के 'भूमिपूजन' समारोह को बाधित करने और हमला करने के संभावित प्रयासों के मद्देनजर सचेत किया है।

एक सप्ताह में यूपी के डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य दोबारा अयोध्या पहुंचे हैं। इससे पहले मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी अयोध्या जाकर राम मंदिर तैयारियों का जायजा ले चुके हैं।

अयोध्या में 5 अगस्त को राम मंदिर के भूमिपूजन कार्यक्रम को लेकर तैयारियां जोरों पर हैं। मंदिर निर्माण को लेकर राम की नगरी अयोध्या में हलचल भी तेज हो गई है। धर्मनगरी में भगवान राम का भव्य मंदिर बनाया जाएगा, इसकी तस्वीरें सामने आई है।

आपको बता दें कि पीएम मोदी 5 अगस्त को अयोध्या जाएंगे। वहां वह राम मंदिर का भूमि पूजन करेंगे। प्रधानमंत्री मोदी जब 5 अगस्त को राम मंदिर की आधारशिला रखेंगे उसी के बाद से मंदिर का निर्माण शुरू हो जाएगा।

जसकौर मीणा ने कहा, 'हम तो आध्यात्मिक शक्ति के पुजारी हैं। आध्यात्मिक शक्ति के हिसाब से चलते हैं। मंदिर बनते ही कोरोना देश से भाग जाएगा।'

इसके अलावा अयोध्या शोध संस्था के तहत 16.8 करोड़ रुपये से तुलसी स्मारक भवन के आधुनिकीकरण कार्य का शिलान्यास भी किया जाएगा। यह परियोजना संस्कृति विभाग द्वारा चलाए जाने का प्रस्ताव है।

टीम भारत ने सोशल मीडिया पर ये दस्तावेज में शेयर किए हैं। इसके मुताबिक पाकिस्तानी सेना ने एक लंबा-चौड़ा प्लान बनाया है। 5 अगस्त को कई चरणों में इसे अंजाम दिया जाएगा। सबका मकसद एक ही है भारत के खिलाफ अशांति भड़काना।

इस मंदिर के भूमि पूजन कार्यक्रम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी शामिल होंगे और आधारशिला रखेंगे। राम मंदिर का भूमि पूजन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी करेंगे।

अयोध्या में राम मंदिर निर्माण भूमि पूजन की तारीख करीब आती जा रही है। पांच अगस्त को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा भव्य राम मंदिर निर्माण के शिलान्यास के साथ अयोध्या का भी कायाकल्प शुरू होगा।