अरुणाचल प्रदेश

India-China: इस मामले में पर सामरिक मामलों के विशेषज्ञ ब्रह्म चेलानी ने भारत(India) की स्थिति को लेकर 30 नवंबर को एक ट्वीट में कहा कि, भारत तीन मोर्चे पर चीन(China) की आक्रामकता का सामना कर रहा है।

सीमा पर जारी तनातनी के बीच अरुणाचल प्रदेश (Arunachal Pradesh) से लापता हुए पांचों युवकों को चीन की पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (PLA) ने आज भारतीय सेना को सौंप दिया है।

सीमा विवाद के बीच भारत (India) ने चीन (China) पर बड़ी कामयाबी हासिल की है। दरअसल सेना के सूत्रों के हवाले से खबर है कि अरुणाचल प्रदेश (Arunachal Pradesh) से लापता 5 युवकों को चीन शनिवार यानी 12 सितंबर को भारत को सौंपेगा।

भारत (India) और चीन (China) के बीच सीमा पर स्थिति नियंत्रण में नहीं है। लगातार कई महीनों से दोनों देश की सेनाओं के बीच किसी ना किसी तरह की आपसी झड़प की खबरें आ रही है।

2014 के लोकसभा चुनावों के बाद से भाजपा ने पलटकर कभी पीछे नहीं देखा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अमित शाह की जोड़ी ने हर मुश्किल को मौके में बदला और सात राज्यों में विपक्ष से छीनकर सरकार बनाई।

भारत भूटान के यती क्षेत्र में एक सड़क बनाने की योजना बना रहा है। इससे गुवाहाटी और अरुणाचल प्रदेश के तवांग की दूरी 150 किलोमीटर घट जाएगी।

पूर्वी लद्दाख स्थित गलवान घाटी में भारत और चीन सैनिकों के बीच 15-16 जून की दरमियानी रात हिंसक झड़प हो गई थी। इस झड़प में सेना के 20 जवान शहीद हो गए थे। वहीं, इस घटना में चीन के भी 43 जवान हताहत हुए थे।

अरुणाचल प्रदेश के तिरप जिले में सुरक्षाबलों के साथ मुठभेड़ में नेशनल सोशलिस्ट काउंसिल ऑफ नागालैंड (इसाक-मुइवा) 6 उग्रवादी मारे गए।

प्रधानमंत्री मोदी ने शुक्रवार को ट्वीट कर कहा, "अरुणाचल प्रदेश में भारी बारिश के साथ-साथ भूस्खलन के कारण हुए जानमाल के नुकसान से दुखी हूं। इस घड़ी में शोक संतप्त परिवारों के साथ हूं। घायलों के जल्द स्वस्थ होने की कामना करता हूं। प्रभावित लोगों को हर संभव सहायता प्रदान की जा रही है।"

कोरोना संकट के बीच प्राकृतिक आपदा भी अपने चरम पर है। देश में आये दिन भूकंप के झटके महसूस किये जा रहे हैं। अब हाल ही में मंगलवार को अरुणाचल प्रदेश के तवांग के पास भूकंप के झटके महसूस किए गए हैं।