असदुद्दीन ओवैसी

गौरतलब है कि बीते 20 फरवरी को अमूल्या ओवैसी की नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ आयोजित रैली में भाषण देने मंच पर आई थी लेकिन शुरुआत में ही उसने कथित तौर पर तीन बार पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगाए।

ओवैसी ने मीडिया पर व्यंग कसने की कोशिश करते हुए कहा कि आप लोग 15 दिनों तक हिंदू मुस्लिम न करें, फिलहाल देश में बहुत बड़ी आफत आई हुई है, उसके बाद हमेशा की तरह आप हिंदू-मुस्लिम करते रहिये।

असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहाद-उल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) के एक और नेता भड़काऊ बयान दिया है। इस बार एआईएमआईएम विधायक मुफ्ती मोहम्मद इस्माईल ने एक जनसभा को संबोधित करते हुए आपत्तिजनक टिप्पणी की है।

केंद्रीय गृह राज्य मंत्री किशन रेड्डी ने मंगलवार को कहा कि कुछ तत्व अभी भी दिल्ली में हिंसा भड़काने की कोशिश कर रहे हैं। मंत्री ने संवाददाताओं से कहा, "खबरें आ रही हैं कि आज भी हिंसा पैदा करने की कोशिश की जा रही है। हम हिंसा के लिए जिम्मेदार लोगों का पता लगाने के लिए उच्च स्तरीय जांच करेंगे और लोगों के सामने सच्चाई लाएंगे।"

बता दें कि नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) के खिलाफ एक रैली में वारिस पठान ने कहा था कि यह समय आ गया है कि हम एकजुट हो जाएं और आजादी लें। याद रखें, हम 15 करोड़ ही 100 करोड़ लोगों पर भारी पड़ सकते हैं। उनके इस बयान की सबने कड़ी आलोचना की थी।

सोशल मीडिया पर बग्गा का ये वीडियो काफी वायरल हो रहा है। दूसरी तरफ वारिस पठान पर मामले को बढ़ते देख असदुद्दीन ओवैसी ने वारिस पठान को मीडिया में बयान देने पर रोक लगा दी है।

गौरतलब है कि अमूल्या ने गुरुवार को ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम)) के अध्यक्ष और हैदराबाद के सांसद असदुद्दीन ओवैसी की रैली में मंच पर चढ़ने के बाद माइक लेकर पाकिस्तान जिंदाबाद का नारा लगाना शुरू कर दिया था। अपने मंच से पाकिस्तान जिंदाबाद का नारा लगाए जाने की ओवैसी ने भी निंदा की थी।

नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) को लेकर बेंगलुरु में चल रहे एक विरोध प्रदर्शन के दौरान मंच से 'पाकिस्तान जिंदाबाद' के नारे लगाने वाली युवती पर सोशल मीडिया यूजर्स भड़क गए हैं।

अमूल्या लियोना को परप्पाना अग्रहारा की सेंट्रल जेल में रखा जाएगा। इसके साथ ही बेंगलुरू पुलिस ने नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) के खिलाफ फ्रीडम पार्क में आयोजित रैली के आयोजकों को भी नोटिस भेजा है। उन्हें पूछताछ के लिए आज सुबह बुलाया गया।

आयोजकों ने तुरंत पुलिस को बुलाया। पुलिस ने प्रदर्शनकारी लड़की को हिरासत में ले लिया और थाने ले गई। प्रदर्शनकारी लड़की की पहचान अमूल्य के रूप में हुई है।