असम

Assam: दो दिन के पूर्वोत्तर दौरे पर केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह (Union Home Minister Amit Shah) शनिवार को असम (Assam) के गुवाहाटी पहुंचे। इस दौरान अमित शाह ने असम में विभिन्न विकास परियोजनाओं का शिलान्यास किया।

New Education Policy: केंद्र सरकार ने राष्ट्रीय शिक्षा नीति (National Education Policy) को लागू करने की दिशा में तेजी से काम करना शुरू कर दिया है। राष्ट्रीय शिक्षा नीति के तमाम प्रस्तावों और प्रावधानों को अमलीजामा पहनाने के लिए न सिर्फ केन्द्रीय स्तर पर बल्कि राज्यवार ‘कार्य-समूह’ गठित किये जा रहे हैं। और भी कई प्रोजेक्ट्स पर काम चल रहा है।

असम (Assam) में मदरसे (Madrassa) बंद करने के फैसले को लेकर काफी विरोध हो रहा है। इसी बीच कांग्रेस नेता उदित राज (Udit Raj) एक बार फिर विवादित बयान देकर सुर्खियों में आ गए हैं। उन्होंने कुंभ मेले की तुलना मदरसे से कर दी जिसके बाद बीजेपी (BJP) ने कांग्रेस पर पलटवार किया।

असम (Assam) के शिक्षा मंत्री हेमंत बिस्वा सरमा (Himanta Biswa Sarma) ने मदरसे (Madrassa) बंद करने को लेकर बड़ा बयान दिया है। उनका कहना है कि सरकारी पैसे पर कुरान (Quran) की पढ़ाई नहीं कराई जा सकती।

Job Vaccancy : असम (Assam) के पुलिस विभाग (Police Department) में कई रिक्त पदों पर भर्तियां (Vacancies) हो रही हैं। योग्य उम्मीदवार जो इस नौकरी को पाने के लिए आवेदन (Apply) करना चाहते हैं, उन्हें पंजीकरण करने के लिए आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।

असम (Assam) के पूर्व मुख्यमंत्री (Former Chief Minister) तरुण गोगोई (Tarun Gogoi) कोरोना पॉजिटिव (Corona Positive) पाए गए हैं। इसकी जानकारी उन्होंने खुद ट्वीट (Tweet) कर दी है।

असम बोर्ड (Assam Board) ने 12 वीं के परिणाम 25 जून को घोषित किए थे। इस साल बारहवीं कक्षा (Twelfth grade results) में 78.28 फीसदी विद्यार्थी पास हुए हैं। अब असम सरकार (Assam Goverment) ने बारहवीं कक्षा में प्रथम श्रेणी (First Divison) हासिल करने वाली छात्राओं को स्कूटी देने का फैसला लिया है।

असम (Assam) के मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल (Sarbananda Sonowal) ने बॉलीवुड सुपरस्टार अक्षय कुमार (Akshay Kumar) को असम बाढ़ राहत (Assam flood relief) की दिशा में 1 करोड़ रुपये का योगदान (1 crore contribution) देने के लिए धन्यवाद दिया है।

देश में बाढ़ (Flood in India) का कहर जारी है। बाढ़ का प्रकोप देश के 6 राज्यों में देखने को मिल रहा है। इससे जनता बेहाल है। असम (Assam), बिहार (Bihar), उत्तर प्रदेश (UP), महाराष्ट्र (Maharashtra), कर्नाटक (Karnataka) और केरल (Kerala) में इस समय बाढ़ का सबसे ज्यादा कहर देखने को मिल रहा है।

प्रधानमंत्री कार्यालय (पीएमओ) ने बताया कि देश में दक्षिण-पश्चिम मानसून और बाढ़ की वर्तमान स्थिति से निपटने के वास्ते तैयारियों की समीक्षा के लिए असम, बिहार, उत्तर प्रदेश, महाराष्ट्र, कर्नाटक और केरल बैठक में शामिल हुए। बैठक में बाढ़ के संकट को रोकने के लिए विस्तार से चर्चा की गई।