आइसोलेशन

Dr Harshvardhan: केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री ने देश में कोरोना(Corona) के हालात पर कहा कि, "हमारा रिकवरी रेट दुनिया में सबसे ज़्यादा है और मृत्यु दर सबसे कम है और रोज़ कोरोना वायरस(Virus) के मामलों में कमी आ रही है।

Corona Vaccine: मालूम हो कि यह वैक्सीन(Vaccine) भारत में पुणे स्थित सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया बना रहा है। वैक्‍सीन(Vaccine) की एफेकसी को लेकर कहा गया कि, इसकी एफेकसी तब अधिक रही जब एक फुल डोज के बाद आधी डोज और दी गई, न कि दो फुल डोज देने पर।

Moderna Corona Vaccine: अमेरिका(America) के फूड एंड ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन( Food and Drug Administration ) ने बीते दिनों मॉडर्ना वैक्सीन के इमरजेंसी इस्तेमाल को मंजूरी देने के संकेत दिए थे। वहीं फाइजर की वैक्सीन के इमरजेंसी इस्तेमाल की मंजूरी पहले ही मिल चुकी है।

Corona Update: अकेले दिल्ली(Delhi) में ही पिछले 24 घंटे के अंदर 6 हजार 2,24 लोग संक्रमित पाए गए। 4943 लोग रिकवर हुए और 109 की मौत हो गई। ऐसे में माना जा रहा है कि दिल्ली में कोरोनाCorona) की तीसरी लहर चल रही है।

Russia Corona Vaccine: रूस(Russia) के दावे को माने तो उसने अबतक कोरोना(Corona) से लड़ने के लिए तीन वैक्सीन बना लिया है। रूस ने अगस्त में अपनी पहली वैक्सीन Sputnik V लॉन्च की थी।

Bharat Biotech: कंपनी का कहना है कोरोना(Corona) की वैक्सीन(Vaccine) को कम से कम 60 प्रतिशत कारगर रखने का लक्ष्य रखा गया है। उसने कोरोना वैक्‍सीन का करीब 60 फीसदी प्रभावीकरण का लक्ष्य रखा है।

Delhi Corona: गौतरलब है कि दिल्ली(Delhi) में वायु प्रदूषण(Air Pollution) एक बड़ा संकट बनकर सामने आया है। IMA ने प्रदूषण के स्तर को कम करने के लिए दीर्घकालिक उपाय लागू करने पर जोर दिया है।

Corona Vaccine: कंपनी के मुताबिक जितनी कोविड-19(Covid-19) के एक गंभीर केस के रिकवर होने पर ऐंटीबॉडीज डेवलप होती है उतनी वॉलंटियर्स में बनीं। गौरतलब है कि दुनियाभर में 150 से ज्‍यादा कोरोना वायरस(Corona Virus) की वैक्‍सीन पर काम चल रहा है।

Corona Cases: बता दें देश में कोरोना(Corona) के एक्टिव केस घटकर 5 लाख 40 हजार हो गए हैं। वहीं सोमवार को 37 हजार 592 संक्रमित मिले, 58 हजार 524 मरीज ठीक हो गए और 497 की मौत हो गई।

Corona Vaccine: फिलहाल देश में कोरोना(Corona) की वैक्सीन(Vaccine) का निर्माण होने तक सरकार की तरफ से ढिलाई नहीं करने के लिए लोगों से अपील की जा रही है। 20 अक्टूबर को राष्ट्र के नाम संदेश में उन्होंने सभी लोगों को सचेत भी किया था कि त्योहारी सीजन में वे सावधान रहें और कोरोना को लेकर बिल्कुल ढिलाई न बरतें।