आईएसआई

पकड़े गए दो भारतीयों में से एक को सोशल मीडिया पर आईएसआई द्वारा ऑपरेट पाकिस्तानी महिला द्वारा हनीट्रैप किया गया था।

पाकिस्तान के पेशावर आर्मी स्कूल में हुए आतंकी हमले के मुख्य आरोपी से जुड़ा बड़ा खुलासा हुआ है। ताजा रिपोर्ट और सूत्रों के मुताबिक टॉप पाकिस्तान तालिबान लीडर एहसानुल्लाह एहसान को इस्लामाबाद में ट्रेस किया गया है।

पाकिस्तान की एजेंसियां गल्फ देशों में भारत के खिलाफ जहर की पैदावार कर रही हैं। पाकिस्तान की एजेंसियां ये अफवाह फैला रही हैं कि भारत में मुसलमान बिल्कुल भी सुरक्षित नहीं हैं।

मुंबई के पूर्व पुलिस कमिश्नर राकेश मारिया ने अपनी आत्मकथा में 2008 में हुए आतंकी हमले को लेकर कई बड़े खुलासे किए हैं। उन्होंने अपनी किताब में बताया है कि पाकिस्तान की आईएसआई(ISI) चाहती थी कि 26/11 के हमले को हिंदू आंतक से जोड़कर दिखाया जाय।

अमृतसर की केन्द्रीय जेल से बरामद की गई एक प्राइवेट मोबाइल फोन कंपनी का वाईफाई डोंगल एवं 3 मोबाइल फोन ने सुरक्षा एजेंसियों की नींद उड़ा दी है।

सीमा पार करतारपुर गलियारे (कॉरिडोर) के बहुप्रतीक्षित उद्घाटन से दो दिन पहले भारत ने पाकिस्तान द्वारा जारी किए गए गलियारे के आधिकारिक प्रचार वीडियो में जरनैल सिंह भिंडरावाले सहित तीन सिख अलगाववादी नेताओं की मौजूदगी पर चिंता व्यक्त की है

करतारपुर कॉरिडोर के उद्धाटन से पहले पाकिस्तान की सरकार ने एक वीडियो सॉन्ग रिलीज किया है, जिसमें खालिस्तानी अलगाववादी जरनैल सिंह भिंडरावाले व कई अन्य नेताओं की तस्वीरों के साथ कांग्रेस नेता नवजोत सिंह सिद्धू भी नजर आ रहे हैं।

दिग्विजय सिंह ने ट्वीट किया कि आईएसआई पाकिस्तान के लिए खुफियागीरी करते हुए भाजपा के नेताओं को एनएसए में गिरफ्तार कर सख्त सजा मिलनी चाहिए।

दरअसल बीते दिनों में जिस तरह से गृह मंत्रालय ने आतंक और अलगाववादियों पर लगाम कसने की सख्त नीति अपनाई है, खासकर अमित शाह के गृहमंत्री बनने के बाद जो सख्ती आई उससे पाकिस्तान में बौखलाहट आ गई है।

उन्होंने कहा कि शुरुआती जांच में उन्होंने सीमा पार के अपने संचालकों से संपर्क में होने की बात स्वीकार की है। पिछले कुछ समय से आतंकवादियों के राडार पर आए रत्नुचक सैन्य स्टेशन पर सुरक्षा बढ़ा दी गई है।